DA Image
3 दिसंबर, 2020|1:19|IST

अगली स्टोरी

जिला और प्रखंडों में आम हुआ जाम की समस्या

default image

इन दिनों शहर के साथ-साथ प्रखंडों के एनएच एवं स्टेट हाइवे पर जाम की समस्या आम है। जाम से निजात नहीं मिलने के कारण आने जानेवाले लोग इस पथ पर जान जोखिम में डालकर यात्रा करने को विवश हैं।

प्रतिदिन औसत एक घंटा तक जाम लग जाने के कारण पथ पर यात्रा करने वाले खासकर महिला एवं उसके साथ यात्रा में शामिल बच्चों को काफी कष्ट का सामना करना पड़ता है। जबकि जिला प्रशासन द्वारा सम्बन्धित थाना एवं अंचल के पदाधिकारियों को जाम की समस्या से समाधान के लिए निर्देश दिया गया है। बावजूद स्थानीय प्रशासन की उदासीनता के कारण प्रतिदिन जाम की समस्या से आम लोगों को रुबरु होना पड़ता है। मंगलवार को भी जिले के कुरसेला एवं कोढ़ा प्रखंड के गेड़ाबाड़ी से कटिहार जानेवाली एनएच 81 पर जाम के कारण वाहनों की लम्बी कतारें लगी रही। जाम लगने के पीछे मुख्य कारण है कि इन पथों का अतिक्रमण कर चौक चरौराहे पर अवैध तरीके से दुकाने सजती है। इन स्थानों पर खरीदारों की भीड़ लग जाने के कारण यात्री वाहन के साथ साथ मालवाहक वाहन के चालकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इतना ही नहीं इन पथों पर ट्रैफिक नियम का अनुपालन नहीं किये जाने के कारण वाहनों की रेलमपेल आवाजाही होती है। ओवर टेक किये जाने के कारण खासकर चार पहिया वाहनों के बीच में आ जाने के कारण अक्सर औसतन जाम की पीड़ा झेलने के लिए आम लोगों को विवश होना पड़ता है। इतना ही नहीं कुरसेला से लेकर डूमर, फूलवड़िया एवं गेड़ाबाड़ी के चौक चौराहे पर होमगार्ड के जवानों को प्रतिनियुक्त कर दिया गया है। जो इस कार्य में विफल साबित हो रहे हैं। अतिक्रमण हटाओ अभियान के नाम पर कोरम: इन पथों को अतिक्रमण कारियों के कब्जे से मुक्त करानें के लिए साल में एक बार अतिक्रमण हटाने का कोरम पूरा कर लिया जाता है। लेकिन सप्ताह के बाद स्थिति यथावत बनी रहती है। इस बाबत स्थानीय नागरिकों में से संदीप कुमार, दीपक कुमार सिंह, अनंत जायसवाल, विनोद पासवान सहित दर्जनों लोगों ने बताया कि जबतक इन अतिक्रमण कारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के साथ स्थायी समाधान नहीं होगा तब तक स्थिति यथावत रहेगी। मंगलवार को भी गेड़ाबाड़ी चौक स्थित नहर के समीप बन रहे डायवर्जन के समीप जाम की स्थिति बनी रही। इतना हीं वाहनों का काफिला धीरे धीरे आगे बढ़ रहा था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Problem of jam became common in district and blocks