DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वास्थ्यकर्मियों का आंदोलन हुआ समाप्त

स्वास्थ्यकर्मियों का आंदोलन हुआ समाप्त

31 मई तक चलने वाला जन स्वास्थ्यकर्मियों का धरना-प्रदर्शन बुधवार को ही सिविल सर्जन के आश्वासन के बाद समाप्त हो गया। सदर अस्पताल परिसर में जिले के जन स्वास्थ्यकर्मियों का धरना कार्यक्रम चल रहा था। बुधवार को सिविल सर्जन डा. आरएन सिंह ने धरना पर बैठे स्वास्थ्यकर्मियों को बुलाकर वार्ता किया तथा कहा कि उन लोगों के सभी मांगों पर विचार किया जायेगा लेकिन उससे पहले आंदोलन को समाप्त करें।

सीएस के आश्वासन पर दोपहर बाद धरना समाप्त कर दिया गया है। सीएस से मिलने पहुंचे प्रतिनिधि मंडल ने कहा कि सरकार का आदेश है कि हर साल कर्मचारियों का दस प्रतिशत का ही स्थानांतरण होना चाहिए। संघ के पदधारकों का तबादला नहीं होनी चाहिए। इसके बाद भी विभागीय स्तर पर तबादला कर दिया गया है।

जिले में कई स्वास्थ्यकर्मी एक ही स्थान पर दस से बीस वर्षों से कार्यरत है। जबकि सरकार के नियमानुसार तीन वर्ष से अधिक समय तक कोई भी स्वास्थ्यकर्मी काम नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि तबादला सरकार के नियमानुसार ही किया गया है। इस पर प्रतिनिधि मंडल ने कहा कि समुचित वार्ता के लिए एक समय दिया जाये। जिस पर सीएस तैयार हो गये। इसके बाद आंदोलन समाप्त कर दिया।

दो साल से ममता कार्यकत्र्ता का बकाया प्रोत्साहन राशि का भुगतान का भी प्रश्न उठाया गया। सीएस ने कहा आवंटन आते ही उक्त राशि का भुगतान कर दिया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Health workers' agitation ends