DA Image
21 अक्तूबर, 2020|1:34|IST

अगली स्टोरी

एएनएम हड़ताल पर स्वास्थ्य सेवा चरमराई

default image

स्वास्थ्य विभाग में डाटा इंट्री ऑपरेटर की हड़ताल जारी है। इस बीच राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम में कार्यरत एएनएम भी हड़ताल पर चले गये हैं। इससे स्वास्थ्य विभाग में कई प्रकार की कार्यो की रफ्तार धीमी हो गई है।

आशा कुमारी, किरण कुमारी, सुमन कुमारी, ब्यूटी कुमारी, रीना कुमारी, सुशीला कुमारी, निभा कुमारी, पुनीता कुमारी, मीतू भारती, सीमा कुमारी, सुनीता, संगीता आदि ने कहा कि ने सिविल सर्जन को आवेदन देकर बताया है कि स्वास्थ्य कार्यक्रम को सुचारू तरीके से संचालन के लिए आयुष चिकित्सक, फार्मासिस्ट एवं एएनएम की नियुक्ति 2015 में की हुई थी। राज्य में संविदा पर नियुक्त एलोपैथ डॉक्टरों के मानदेय बराबर आरबीएसके में नियुक्त फार्मासिस्ट एवं एएनएम को देने का आदेश दिया गया। लेकिन सरकार द्वारा न तो मानदेय ही एमबीबीएस के बराबर दिया गया और न ही मानदेय में वृद्धि ही हुई है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत फार्मासिस्ट के अनुरूप नहीं किया जाता है तबतक उन लोगों का बेमियादी हड़ताल जारी रहेगा। मालूम हो कि 17 जून से जिले के डाटा इंट्री ऑपरेटर बेमियादी हड़ताल पर है। इससे रोगियों का निबंधन व ऑन लाइन कार्य प्रभावित हो रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Health service cremation on ANM strike