DA Image
26 नवंबर, 2020|9:18|IST

अगली स्टोरी

चाय की चुस्की संग चुनावी बहस जारी

default image

जिला मुख्यालय स्थित मिरचाईबाड़ी हनुमान मंदिर से गेड़ाबाड़ी जानेवाली सड़क मार्ग में चाय की दुकान पर सुबह सात बजे लोग पहंुचे थे। चाय की चुस्की के बीच चुनावी बहस शुरू हो गयी।

कौन जीतेगा कौन हारेगा का भी चर्चा जारी था। शनिवार होने के वजह से सुबह से आसपास के लोग हनुमान मंदिर स्थित मंदिर में प्रार्थना कर चाय की चुस्की में जमे हुए थे। किसी ने बेरोजगारी तो कोई शहर की जलजमाव पर चर्चा करने में मशगुल थे। चुनाव की मुद्दे की बात को और जलजमाव, बंद जूट मील, उद्योग धंधे के साथ साथ रोजगार पर चर्चा नहीं हो तो चुनावी मुद्दा अधूरा रह जाता है। लोग अपने अपने तर्क दे रहे थे। किसी का कहना था कि विकास हुआ है तो कोई इसे नकार रहे थे। 48 वर्षीय चाय व्यवसाय से जुड़े जीतेन्द्र ठाकुर, मनीष कुमार ने कहा कि चुनाव के वक्त हर कोई प्रत्याशी हाथ जोड़कर नमस्कार करते हैं जो भी बात उनके समक्ष रखते हैं सभी वादे में हां में हां मिला देते हैं। इस बार तो चयन करने का उनकी बारी है। मनीष ने कहा कि वे युवा मतदाता हैं पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। उनकी खुशी स्पष्ट झलक रही थी। यह पूछे जाने पर आप किन्हें मत देंगे तो कहा कि हम युवा हैं और युवा के हित और रोजगार देने वाले को अपना मत देंगे। जिला में सात विधानसभा में कटिहार, कोढ़ा, बरारी, प्राणपुर, कदवा, मनिहारी और बलरामपुर शामिल है। वर्ष 2015 में बरारी में राजद, कोढ़ा, मनिहारी और कदवा में कांग्रेस ,कटिहार और प्राणपुर में बीजेपी तथा बलरामपुर विधानसभा में माले विधायक का कब्जा है। इस बार बदले समीकरण के तहत चुनाव हो रहा है। जो दिलचस्प होगा। एनडीए ,महागठबंधन के बीच लोजपा व अन्य गठबंधन भी यहां सक्रिय हैं। इनकी सक्रियता चुनावी परिणाम को कितने प्रभावित करेगी यह तो आनेवाला समय ही बतायेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Electoral debate continues with a sip of tea