अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिलाओं ने सोमवारी व्रत का किया अनुष्ठान

महिलाओं ने सोमवारी व्रत का किया अनुष्ठान

सावन में सोमवारी व्रत का विशेष महत्व है। शिव पुराण में यह उल्लेख किया गया है कि सावन माह में जो भक्त सच्चे मन से सोमवारी व्रत का अनुष्ठान करते हैं उन्हें मनवांछित फल की प्राप्ति होती है। तीसरी सोमवारी को महिलाओं ने सोमवारी व्रत रखकर भोले नाथ का अनुष्ठान किया।

महादेव सिमरिया स्थित बाबा धनेश्वर नाथ मंदिर में सोमवार की अहले सुबह विशेष पूजा का आयोजन किया गया। वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ भोलेनाथ की पूजा की गयी। सबसे पहले मंदिर परिसर में भगवान गणेश की पूजा हुई। उसके बाद भोले नाथ का अनुष्ठान किया गया। गंगा जल, घी, चंदन, मधू, दही, धतूरा, रोड़ी,बेलपत्र, पुष्प, फल, पंचमेवा आदि से भोलेनाथ का शृंगार किया गया।

उधर सोनो में सावन मास के तीसरे सोमवारी के अवसर पर प्रखंड के डुमरी गांव में अवस्थित कंचनेश्वर महादेव मंदिर में श्रद्धालु भक्तों की भीड़ लगी रही । चकाई प्रखंड के दर्जनों शिव पार्वती मंदिरों में जाकर भक्तों ने माथा टेका और पूजा अर्चना की। प्रखंड के बासुकीटांड़, कर्णगढ़, माधोपुर, गोला चकाई, खास चकाई, रामचंद्रडीह, सरौन, नावाडीह, घाघरा, बेलबोना, फतेहपुरा, महेश्वरी आदि दर्जनों शिव पार्वती मंदिरो मेंं नर और नारियों का जनसैलाब उमड़ पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Women performed the fast on Monday