Villagers clash in protest against irregularities - अनियमितता के विरोध में ग्रामीणों ने काटा बवाल DA Image
7 दिसंबर, 2019|11:02|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अनियमितता के विरोध में ग्रामीणों ने काटा बवाल

अनियमितता के विरोध में ग्रामीणों ने काटा बवाल

चकाई प्रखंड अंतर्गत नवीन प्राथमिक विद्यालय चुनमारायडीह के प्रभारी प्रधानाध्यापक अशोक दास के खिलाफ मंगलवार को आक्रोशित ग्रामीणों ने जमकर बबाल मचाया। विद्यालय की गिरती शिक्षा व्यवस्था को सुधार करने के लिये ग्रामीण द्वारा पूर्व में शिक्षा से जुड़े वरीय पदाधिकारी को आवेदन देकर शिक्षा में सुधार लाने की गुहार लगायी थी। शिक्षा विभाग के पदाधिकारियों की कुंभकर्णी निंद्रा अब तक नहीं खुली है।

स्कूल में नामित रहने के बाबजूद इस स्कूल के बच्चे गांव से एक किलोमीटर की दूरी तय कर उत्क्रमित मध्य विद्यालय धनवे जाते हैं। चुनमारायडीह गांव के ग्रामीण सुरेश यादव, गुड्डू यादव, अनिल कुमार, कैलाश साह, राजू यादव, सुरेंद्र साह, गांगो साह, रामेश्वर साह एवं स्कूली बच्चे मिश्री कुमार, भारती कुमारी, कल्पना कुमारी, शरीफा कुमारी, आशीष कुमार, टिंकू कुमारी, गायत्री कुमारी, पूजा कुमारी, पीयूष कुमार आदि ने बताया कि स्कूल के प्रभारी प्रधानाध्यापक श्री दास स्कूल का माहौल खराब कर रखा है।

कभी भी यह स्कूल समय पर नहीं खुलता है और न ही शिक्षक समय पर पहुंचते हैं। मध्याहन भोजन की बात तो दूर पोशाक व छात्रवृति की राशि भी यहां के बच्चों को नसीब नहीं हुआ है। तेज तर्रार अभिभावक प्र्रधानाध्यापक से उलझकर राशि ले लेते हैं मगर सीधे-साधे अभिभावकों के बच्चों को सहायता का लाभ से वंचित रखा जाता है। ग्रामीणों का कहना था कि हालत इस कदर है कि यहां के बच्चे और न ही अभिभावक जानते हैं कि स्कूल में कितने शिक्षक कार्यरत हैं। स्कूल में सिर्फ एक सहायक शिक्षक मानव रंजन आते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Villagers clash in protest against irregularities