DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हरहर महादेव के जयघोष से गूंजते रहे शिवालय

हरहर महादेव के जयघोष से गूंजते रहे शिवालय

1 / 3जमुई के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के शिवालयों में शिवरात्रि के मौके पर भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। जिले भर में सोमवार को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया गया। आस्था के साथ-साथ श्रद्धालुओं ने भगवान भोले नाथ और...

हरहर महादेव के जयघोष से गूंजते रहे शिवालय

2 / 3जमुई के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के शिवालयों में शिवरात्रि के मौके पर भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। जिले भर में सोमवार को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया गया। आस्था के साथ-साथ श्रद्धालुओं ने भगवान भोले नाथ और...

हरहर महादेव के जयघोष से गूंजते रहे शिवालय

3 / 3जमुई के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के शिवालयों में शिवरात्रि के मौके पर भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। जिले भर में सोमवार को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया गया। आस्था के साथ-साथ श्रद्धालुओं ने भगवान भोले नाथ और...

PreviousNext

जमुई के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के शिवालयों में शिवरात्रि के मौके पर भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। जिले भर में सोमवार को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया गया। आस्था के साथ-साथ श्रद्धालुओं ने भगवान भोले नाथ और माता पार्वती की पूजा अर्चना की। सोमवार की सुबह ही मंदिरों में जलाभिषेक के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा था। हर-हर महादेव की जयघोष से जिले का शिवालय गूंजता रहा। सोमवार की अहले सुबह विभिन्न मंदिरों में पंडितों के द्वारा महादेव की पूजा की गयी। वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ औघड़दानी भगवान शिव की पूजा हुई। गंगा जल, दूध, दही, मधू, चंदन, रोड़ी, अच्छत, घी, कपूर, बेलपत्र, मेवा, सूखा मेवा, धूप, धतूरा, भांग, फल से सभी शिवालयों में भोलेनाथ का अभिषेक किया जा रहा था। इसके बाद श्रद्धालुओं के लिए मंदिरों का पट खोल दिया गया। पूरे दिन धार्मिक अनुष्ठान का कार्यक्रम चलता रहा। शिवरात्रि को लेकर श्रद्धालुओं में उत्साह भी देखने को मिला। शहर के डीएम आवास स्थित गणपित महादेव मंदिर, महिसौड़ी चौक स्थित शिवमंदिर, पुरानी बाजार स्थित शिवमंदिर, एसपी आवास के समीप मंदिर, सिरचंद नवादा स्थित शिवमंदिर समेत विभिन्न शिवालयों में भक्तों का जनसैलाव उमड़ा था। आस्था के साथ श्रद्धालु मंदिरों में भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना में पूरी तरह तल्लीन दिखे। जमुई शहर से चार किलोमीटर दूरी पर पतनेश्वर पहाड़ है। किउल नदी के तट पर पत्नेश्वर पहाड़ पर ही भोलेनाथ और माता पार्वती बिराजमान हैं। महाशिवरात्रि के मौके पर पतनेश्वर महादेव मंदिर में भोलेनाथ का जलाभिषेक करने भक्तों की भीड़ उमड़ी थी। पांच हजार से अधिक श्रद्धालु यहां आकर भोलेनाथ की पूजा अर्चना की। किउल नदी में स्नान करने के बाद श्रद्धालु पहाड़ी की चोटी पर पहुंचे। इसके बाद कतारवद्ध होकर पूजा अर्चना कर रहे थे। मंदिर कमेटी और स्वयंसेवी संंगठन के लोग श्रद्धालुओं का सहयोग कर रहे थे। महादेव सिमरिया की दूरी करीब 11 किलोमीटर है। ऐतिहासिक और पौराणिक देवघर की तरह बाबा का मंदिर है। धनेश्वर नाथ मंदिर परिसर में मां पार्वती, मां अन्नपूर्णा, गणेश जी, हनुमान जी, राधाकृष्ण के अलावा अन्य देवी देवताओं की प्रतिमा स्थापित है। बाबा धनेश्वर नाथ मंदिर में करीब 15 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने भोलेनाथ का अभिषेक किया। वहीं सीसीटीवी से नजर रखी जा रही थी। मंदिर परिसर के समीप पवित्र तालाब में स्नान करने के बाद श्रद्धालु बाबा धनेश्वर नाथ की पूजा अर्चना कर रहे थे। पंडितों और पुराहितों के द्वारा जल संकल्प कराया जा रहा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Pagoda resonating with the praise of Harar Mahadev Pagoda resonating with the praise of Harar Mahadev