DA Image
27 जनवरी, 2020|12:02|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रद्धालुओं के लिए माता दरबार सज-धजकर तैयार

श्रद्धालुओं के लिए माता दरबार सज-धजकर तैयार

मां दुर्गा का नौ दिवसीय शारदीय नवरात्र आज से शुरू हो रहा है। आज से मां के दरबारों में भगवती-भक्तों अहले सुबह से ही गहमागहमी तथा हर शाम रैला-मेला लगना तय है। दुर्गा मंदिरों को जाने वाली तमाम सड़कें भी श्रद्धालुओं से ही गुलजार नजर आएंगी। झाझा शहर में स्थित मां वैष्णवी दुर्गा का दरबार न केवल झाझावासियों के लिए,अपितु आसपास के इलाके वासियों के लिए भी आधी सदी से भी अधिक वक्त से श्रद्धा व आस्था का प्रमुख केंद्र रहा है।

मां की महिमा ही कुछ ऐसी निराली है कि बगैर इस दरबार में आकर हाजिरी बजाए किसी को न चैन मिलता है,न सकून। इस बार भी यह दरबार अपनी महिमा व प्रसिद्धि के अनुरूप भव्यता के सांचे में ढला-सजा नजर आ रहा है। मंदिर में भक्तों की बेतहाशा भीड़ उमड़ने के मद्देनजर बीते वर्षों की भांति मंदिर के आगे मेन रोड पर भी लंबा-चौड़ा पंडाल बनाया गया है। मुंगेर का मू्त्तितकार महादेव पंडित जहां मू्त्तितयों को अंतिम रूप देने में मशगुल दिखा। पंडित रामानंद व दिलीप झा आदि कलश स्थापन व नवरात्र पूजन की तैयारियों में जुटे दिखे। तो,पूजा समिति के पहरूए नवरात्र महोत्सव मेले की तमाम तैयारियों को फाइनल टच देने में लगे भिड़े दिखे। तैयारियों में लक्ष्मण झा,मुरारी प्रसाद,अनिल बर्णवाल,अंकित अग्रहरि,साधु केशरी,राजेश विश्वकर्मा व दिवाकर माथुरी आदि समेत बड़ी तादाद में युवा कार्यकत्र्ताओं की फौज लगी थी।