DA Image
20 सितम्बर, 2020|3:21|IST

अगली स्टोरी

जमुई: दरभंगा से शव लेकर आए एम्बुलेंस को ग्रामीणों ने बनाया बंधक

default image

जमुई: लक्ष्मीपुर थानाक्षेत्र के ककनचौर गांव में ग्रामीणों ने एक एम्बुलेंस को बंधक बनाया।साथ ही एम्बुलेंस से शव को उतारने से इंकार कर दिया।जानकारी के अनुसार ककनचौर गांव का डब्लू यादव पिता झमन यादव गांव के ही ब्रजनंदन यादव के ट्रक पर खलासी का काम करता था।एक सप्ताह पूर्व वह ब्रजनंदन यादव के भाई शंकर यादव के साथ दरभंगा गया था।जिसकी मौत 29 अगस्त को उस समय ही गई।जब वह दरभंगा जिला के सिमरी थानाक्षेत्र के किसी होटल में चाय पीने के लिए सड़क पार कर रहा था।इस दौरान एक ट्रक ने उसे रौंद दिया।उसके साथ रहे शंकर यादव और ब्रजनंदन यादव ने सारी कानून प्र्त्रिरया पूरी कराते हुए शव को एम्बुलेंस से उसके घर ककनचौर भेज दिया।लेकिन मृतक के परिवार और ग्रामीण इस बात को लेकर भड़क गए कि घटना के दिन किस परिस्थिति में सूचित नहीं किया गया।मृतक के परिवार वाले ने एम्बुलेंस से शव उतारने से इंकार कर दिया।मामले की सूचना लक्ष्मीपुर थाना को दिया गया।सूचना पाते ही लक्ष्मीपुर थानाध्यक्ष राज कुमार,एस आई नागेश्वर तिवारी,ए एस आई रामशीष यादव पुलिस बल के साथ गांव ककनचौर पहुंचे।साथ ही मृतक के परिजनों को समझाने का काम शुरू किए।इस दौरान बरहट थानाध्यक्ष भी गांव पहुंच गए।बातचीत के दौरान मृतक के परिवारवाले और रिश्तेदार भड़क गए।साथ ही वे सभी पुलिस पदाधिकारी के साथ दुर्बयवहार करते हुए ट्रक मालिक के भाई शंकर यादव के पुत्र अप्पू यादव और उसके एक रिश्तेदार पर हमला बोल दिया।इस दौरान वे सभी पुलिस वाहन को क्षति ग्रष्ट कर दिया।साथ ही अप्पू यादव और उसके रिश्तरदार8 नंदलाल यादव को मारपीट कर जख्मी कर दिया।जिसका इलाज जमुई में कराया जा रहा है।।इस दौरान पुलिस ने सूझ बूझ से काम करते हुए एक बड़ी घटना पर विराम लगा दिया।स्थिति की जानकारी लेने नवपदस्थापित अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी डॉ राकेश कुमार पहुंचे।जो थानाध्यक्ष राज कुमार को कुछ आवश्यक निर्देश दिए।इसके पूर्व लगभग सोलह घण्टा बाद एम्बुलेंस से शव को उतारा गया।साथ ही मृतक के परिजनों को हरसंभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाया।मृतक दो भाइयों में छोटा था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jamui Villagers hostage the ambulance who brought the body from Darbhanga