DA Image
22 जनवरी, 2021|5:41|IST

अगली स्टोरी

जमुई: बड़ी वारदात को अंजाम देने जुटे कुख्यात गिरोह का एक बदमाश धराया,असलहा भी बरामद

default image

जमुई: गुप्त सूचना के कारण झाझा पुलिस केा जहां एक बड़ी सफलता मिली है वहीं एक बड़ी घटना को अंजाम देने से विफल कर दिया है। पुलिस ने छापामारी कर एक बदमाश को भी गिरफ्तार कर लिया है। वहीं गिरोह के बाकी सारे सदस्य पुलिस को चकमा दे फरार हो जाने में कामयाब रहे बताए जाते हैं। पुलिस अनुसार पकड़ा गया बदमाश ने कबूल किया कि वे सभी बदमाश जेल में बंद गैंगस्टर टनटन मिश्रा गिरोह के सदस्य हैं तथा उसी के इशारे पर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के मक्सद् से झाझा के बाराजोर में मटकोरवा पास जुटे थे। पुलिस के हत्थे चढ़े बाराजोर के ही मो़मेराज हुसैन के पास से पुलिस ने ़315 की एक लोडेड पिस्टल के अलावा एक कारतूस व मोबाइल भी बरामद किए जाने की बात बताई है। बताया जाता है कि फरार होने में कामयाब रहे गिरोह के अन्य सदस्य भी असलहें से लैस थे। बड़ी बात यह कि गिरोह का सरगना अर्से से जेल में है। बहरहाल,झाझा से विदा होते-होते निवर्त्तमान थानाध्यक्ष सिद्घेश्वर पासवान द्वारा झाझा पुलिस की झोली में डाली गई उक्त कामयाबी के बाद अब पुलिस उससे गैंगस्टर के उक्त गिरोह के अन्य सदस्यों के नाम,ठिकाने व उनकी कारगुजारियों की बातें खंगालने में लगी है। जानकारीनुसार,झाझा पुलिस को एसपी के तकनीकी सेल से मौका-ए-वारदात पर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के इरादे से कई अपराधियों के जुटे होने की सूचना मिली थी। सूचना के मद्देनजर एएसआई राजकुमार पासवान पुलिस बल के साथ रात करीब सवा 12 बजे मौके पर पहुंचे थे जहां पुलिस वाहन की लाइट देख अपराधी भागने लगे थे। अंतत:पुलिस के द्वारा खदेड़े जाने पर एक बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ गया था। पुलिस सूत्रों के अनुसार उक्त कामयाबी की पृष्ठभूमि में पूर्व थानाध्यक्ष सिद्घेश्वर पासवान की रणनीति का काफी योगदान रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jamui A rogue of the infamous gang that was involved in a major crime was arrested even recovered