DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समय पर भरें जीएसटी रिटर्न, नहीं तो लगेगा जुर्माना


समय पर भरें जीएसटी रिटर्न, नहीं तो लगेगा जुर्माना

जमुई वाणिज्य कर अंचल के अधिकारियों ने शुक्रवार को स्थानीय अग्रवाल पंचायत भवन (मारवाड़ी धर्मशाला) में एक कार्यशाला का आयोजन किया। कार्यशाला का मुख्य मकसद जीएसटी के तहत भरे जाने वाले सालाना रिटर्न के मामले में व्यवसायियों के समक्ष आमतौर पर सामने आने वाली उलझनों को सुलझाना था।

साथ ही उन्हें इसके पूरे फॉर्मेट व प्रक्रिया से बावस्ता करना था। मुख्य फोकस जुलाई 17 से मार्च 18 यानि वित्तीय वर्ष 2017-18 के सालाना रिटर्न पर था जिसे दाखिल करने की अंतिम तारीख आगामी 30 जून है। विभागीय अधिकारियों ने इस क्रम में यह बात भी बहुत स्पष्ट कर दी कि फाइलिंग की अंतिम तारीख भले ही 30 जून है पर आप उस तारीख के मद्देनजर रिटर्न अंतिम क्षणों में भरने के चक्कर में मुगालते में न रहें अन्यथा आपको दो सौ रूपए रोजाना की पेनाल्टी लगनी तय है। उन्होंने पेनाल्टी की पीड़ा से बचने को अंतत: 15 जून तक उक्त सालाना रिटर्न भर देने की नसीहत दी।

विभागीय संयुक्त आयुक्त (जेसी) मोहन कुमार की अगुवाई में परवान चढ़ी उक्त कार्यशाला में विभाग के सहायक आयुक्त सह मास्टर टे्रनर विक्की विश्वकर्मा भी मौजूद थे जिन्होंने व्यापारियों की कई उलझनों अथवा जिज्ञासाओं का भी संतोषप्रद रूप में समाधान किया। साथ ही आइंदा भी किसी परेशानी के समाधान को जमुई कार्यालय में एक हेल्प डेस्क खोल दिए होने की भी जानकारी दी जो प्रत्येक कार्य दिवस में सुबह 10 से सायं 6 बजे तक कार्यरत रहेगा। हेल्पडेस्क का नं.9470001719 भी जारी किया गया। जेसी ने जमुई जिले के व्यवसायियों की तारीफ करते हुए कहा कि व्यवसायियों के सहयोग की बदौलत उनके चुनावी ड्यूटी में व्यस्त रहने के बावजूद जिले का टार्गेट न केवल पूरा हुआ अपितु 65 लाख सरप्लस भी रहा। कहा, उक्त सहयोग का ही फलाफल है कि कई मामलेंे में सूबे में पहले से पांचवे मुकाम तक जमुई का ही नाम है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Fill on time GST returns otherwise it will not be penalized