DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

7.25 करोड़ की राशि से झाझा रेलवे स्टेशन का होगा विकास

7.25 करोड़ की राशि से झाझा रेलवे स्टेशन का होगा विकास

दशकों से सुविधाओं की कमी झेल रहे झाझा रेलवे स्टेशन के दिन बहुत जल्द बहुरने वाले हैं। जी हां! यहां यात्रियों की सुविधाएं बढ़ाने के लिए पूर्व मध्य रेलवे ने एकमुश्त 7.25 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है।

दानापुर के पीआरओ संजय कुमार प्रसाद ने भी इस तथ्य की जानकारी दी है। बता दें कि झाझा स्टेशन पूर्व एवं पूर्व मध्य रेलवे का संगम बिंदू होने की वजह से अपनी पहचान बफर स्टेशन के बतौर रखता आया है। पूर्व में पूर्व रेलवे की तो पश्चिम में पूर्व मध्य रेलवे की चौहदी इसी स्टेशन से शुरू होती है। उक्त विशिष्टताओं के बावजूद इस स्टेशन अभी तक कई सुविधाओं से महरूम रहा। अब जल्द यहां विकास का काम होगा। इस स्टेशन से रोजाना लगभग चार हजार यात्री आवागमन करते हैं। यहां के मुसाफिर व व्यावसायिक संगठन यात्री सुविधाओं में विस्तार को ले दशकों से गुहार लगाते आ रहे हैं।

20 फीट चौड़े ने फुट ओवरब्रिज का होगा निर्माण : आवंटित राशि से स्टेशन पर एक 20 फीट चौड़े नए फुट ओवरब्रिज (एफओबी) के निर्माण के अलावा अन्य कई संसाधनों के जीर्णोद्धार का भी कार्यक्रम है। स्वीकृत राशि की आधे से अधिक यानि सवा चार करोड़ की रकम एफओबी पर ही खर्च हो जानी है। बचे तीन करोड़ की रकम से स्टेशन के फर्स्ट एवं सेकेंड क्लास वेटिंग रूम और टिकट बुकिंग काउंटरों का जीर्णोद्धार व सौंदर्यीकरण समेत यात्री सुविधाओं से संबंधित कई अन्य कार्यों को भी जमीन पर उतारा जाएगा। इसके अलावा झाझा स्टेशन को पहली बार एक फेस भी बनाया जाएगा। बता दें कि खुद रेलवे के एक पूर्व अधिकारी के अनुसार उनकी नजर में झाझा ऐसा पहला स्टेशन था जिसका की कोई ‘फेस नहीं था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Development of Jhajha railway station with 7 25 crore