DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  जहानाबाद  ›  पूरा सिस्टम फेल, आर्मी के हवाले हो देश : पप्पू यादव

जहानाबादपूरा सिस्टम फेल, आर्मी के हवाले हो देश : पप्पू यादव

हिन्दुस्तान टीम,जहानाबादPublished By: Newswrap
Sun, 02 May 2021 09:10 PM
पूरा सिस्टम फेल, आर्मी के हवाले हो देश : पप्पू यादव

पूर्व सांसद ने जहानाबाद के कोरोना आइसोलेशन वार्ड का लिया जायजा

कहा - अन्य जिले की अपेक्षा प्रशासन है कुछ सजग

लेकिन मरीजों को बचाने के लिए व्यापक सुधार की है जरूरत

जहानाबाद। निज प्रतिनिधि

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने मजदूर दिवस के दिन जहानाबाद का दौरा किया और यहां सदर अस्पताल कैंपस में संचालित कोरोना के आइसोलेशन वार्ड का जायजा लेकर मरीजों के हित में व्यवस्था में व्यापक सुधार लाने की बात कही। हालांकि उन्होंने इतना जरूर कहा कि राज्य के अन्य जिलों की अपेक्षा जहानाबाद में प्रशासन के अधिकारी कुछ सजग हैं। लेकिन डॉक्टर्स और नर्स केयरिंग की आवश्यकता है। इसमें कमी है। आइसोलेशन वार्ड में सफाई की नितांत आवश्यकता है। दवाई की कमी की भरपाई करने की जरूरत है। उन्होंने स्पष्ट कहा है कि जहां ऑक्सीजन और दवा के लिए मरीज तरस जाएं, उस देश के सिस्टम को चलाने वाले नेता को चुल्लू भर पानी में डूब जाना चाहिए। उन्होंने मांग किया है कि पूरी तरह फेल सिस्टम में सुधार लाने के लिए देश को आर्मी के हवाले किया जाना चाहिए ताकि कोरोना से तड़पकर मर रहे मरीजों की जान बचाई जा सके। जाप नेता ने यह भी कहा है कि सरकार पूरे देश में मौत के आंकड़े को छुपा रही है। बिहार के विभिन्न जिलों में विगत 16 दिनों से जांबाजी का परिचय देते हुए अस्पतालों और आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीजों और वहां की व्यवस्था का हाल जानने के लिए पप्पू यादव भ्रमण कर रहे हैं। इसी क्रम में वे जहानाबाद आए थे। जहानाबाद के आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण करने के दौरान वहां भर्ती मरीजों ने उन्हें बताया कि यहां उनका केयर सही ढंग से नहीं किया जा रहा है। समय पर दवा आदि की आपूर्ति नहीं की जा रही है। पूर्व सांसद ने घूम- घूमकर जब सफाई व्यवस्था का जायजा लिया तो भारी गंदगी पायी। उन्होंने कहा कि 11 बजे तक सफाई की व्यवस्था नहीं थी। गंदगी की ढेर लगी थी जो उचित नही है। केंद्र और बिहार सरकार की व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि बार-बार केंद्र सरकार बिहार के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। वैक्सीन देने में कोताही बरती जा रही है। यह भी कहा कि फतुहा समेत दो ऑक्सीजन प्लांट बंद है। चूंकि लिक्विड नहीं मिल रहा है तो ऑक्सीजन की भराई कैसे होगी। बिहार के सरकारी और निजी अस्पतालों में घोर कमी है। कोरोना की भयावहता को देखते हुए ऑक्सीजन और दवाई की कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध उन्होंने सख्त कदम उठाने की नसीहत दी है।

फोटो-02 मई जेहाना-03

कैप्शन-कोरोना संक्रमितों को मिल रही सुविधाओं और इलाज का जायजा लेने के लिए शनिवार को जहानाबाद पहुंचे पूर्व सांसद पप्पू यादव।

इनसेट

कोविड सेंटर में बिखरा पड़ा रहता है कचरा

जहानाबाद सदर अस्पताल स्थित कोविड सेंटर में कचरे का अंबार लगा रहता है। वहां भर्ती मरीजों के परिजनों ने आरोप लगाया कि 11 बजे तक कचरे के उठाव के लिए कोई भी कर्मी नहीं पहुंचते हैं। वार्ड में भी जहां-तहां कूड़ा-कचरा बिखरा रहता है। मरीजों के परिजनों ने पूर्व सांसद को बताया कि कचरा हटाने के लिए कहने पर भी कोई सुनने को तैयार नहीं है। इधर, पप्पू यादव ने कहा कि कोरोना में दवाई और सफाई तथा उचित देखभाल की काफी अहम भूमिका है। जिला प्रशासन को चाहिए कि वह कोविड सेंटर के वार्ड और परिसर को साफ-सुथरा रखें।

फोटो-02 मई जेहाना-04

कैप्शन-सदर अस्पताल स्थित कोविड सेंटर में वार्ड के बाहर बरामदे में बिखरा कचरा।

संबंधित खबरें