ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार जहानाबादबेलगाम सत्ता पर जनता लगाएगी लगाम : डॉ. अरुण -सत्ता संग्राम

बेलगाम सत्ता पर जनता लगाएगी लगाम : डॉ. अरुण -सत्ता संग्राम

जहानाबाद, हिंदुस्तान प्रतिनिधि।उक्त बातें बसपा प्रत्याशी पूर्व सांसद डॉ अरुण कुमार ने सोमवार को जनसंपर्क के दौरान जगह-जगह पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए...

बेलगाम सत्ता पर जनता लगाएगी लगाम : डॉ. अरुण -सत्ता संग्राम
हिन्दुस्तान टीम,जहानाबादMon, 27 May 2024 10:30 PM
ऐप पर पढ़ें

जहानाबाद, हिंदुस्तान प्रतिनिधि।
राज्य सरकार के अधिकारी बेलगाम हो चुके हैं। बेलगाम अधिकारी के निर्णय से सूबे के लोग त्रस्त हैं। जनता बेलगाम सत्ता पर लगाम लगाने का निर्णय कर चुकी है। उक्त बातें बसपा प्रत्याशी पूर्व सांसद डॉ अरुण कुमार ने सोमवार को जनसंपर्क के दौरान जगह-जगह पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षकों को लगातार अपमानित कर रही है। मुख्यमंत्री निश्चय योजना भ्रष्टाचार की भेट चढ़ गया। उन्होंने कहा कि बेलगाम सत्ता को जनता के सहयोग से उखाड़ फेंका जाएगा। उन्होंने कहा कि जहानाबाद की जनता मूक सांसद को हराने का मन बना चुकी है। उन्होंने कल्पा-किनारी पथ पर रोड शो भी किया। उन्होंने कहा कि दो बार के विधान परिषद सदस्य के तौर पर एवं दो बार सांसद के तौर पर उनके किसी कृत्य पर कोई उंगली नहीं उठा सकता। जबकि वर्तमान सांसद की भूमिका एंबुलेंस घोटाला में है। वहीं राजद प्रत्याशी के शपथ के पत्र के अनुसार वे सात आपराधिक मामलों के अभियुक्त हैं। उन्होंने कहा कि जनता ने मुझे जिताया भी है और हराया भी है। इस बार जनता के उत्साह को देखते हुए यह तय लग रहा है कि जनता इस बार मुझे संसद में भेजने का निर्णय कर चुकी है।

फोटो-27 मई जेहाना-21

कैप्शन-जहानाबाद के कल्पा-किनारी सड़क पर रोड शो करते बसपा प्रत्याशी डॉ. अरुण कुमार।

इनसेट

टैक्स के पैसे से वोटरों को प्रभावित करने की कोशिश अरूण

जहानाबाद, निज संवाददाता।

पूर्व सांसद सह बसपा प्रत्याशी डॉ अरुण कुमार ने सोमवार को प्रेस वार्ता कर सरकार के एक मंत्री पर प्रतिनिधियों और अधिकारियों को धमकाने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के एक मंत्री पंचायत के प्रतिनिधियों तथा अधिकारियों को धमका रहे हैं और एनडीए के पक्ष में काम करने के लिए कह रहे हैं। चुनाव आयोग के सभी नियमिक लोगों को पत्र भेजकर इसकी जांच की मांग किया हूं।

पूर्व सांसद ने बिना नाम लिए मशहूर दावा कंपनी के सीएमडी पर निशाना साधते हुए कहा कि लोगों के टैक्स के पैसे से वोटरों को प्रभावित करने का काम किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि कंपनी के सीएसआर के पैसा से लोगों के वोट को खरीदने की कोशिश की जा रही है जबकि जहानाबाद की स्वाभिमानी जनता उनके झांसे में आने वाली नहीं है। उन्होंने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह सरकार सूबे के शिक्षकों को अपमानित करने के लिए के के पाठक जैसे अधिकारी को छूट दे दी है जिसका एक सूत्री कार्यक्रम शिक्षकों को जलील और परेशान करना रह गया है। शिक्षक गुलाम नहीं होता है। शिक्षक उन्मुक्त होते हैं। मैं गरीबों की आवाज लेकर घूम रहा हूं। जीत की ओर हमारी पार्टी बढ़ रही है तब सत्ता दल वालों की बेचैनी बढ़ गयी है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।