DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जहानाबाद : दो वर्षों में मात्र 184 आवास ही हुए पुरे

आवास निर्माण की धीमी गति पर डीडीसी ने जतायी गहरी नाराजगी

वर्ष 2017-18 में 4035 आवासों की स्वीकृति देने का है लक्ष्य

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कर्मियों की शिथिलता की वजह से दो वर्षों में मात्र 184 आवास ही पूर्ण हो पाए हैं। डीडीसी रामरुप प्रसाद ने इसे अत्यंत निराशाजनक बताते हुए सभी प्रखंडों के बीडीओ को कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है। डीडीसी ने सभी प्रखंडों के बीडीओ को निर्देश दिया है कि वे योजना के प्रगति की समीक्षा प्रत्येक दिन करें। सरकार ने 2017-18 में 4035 आवासों की स्वीकृति देने का लक्ष्य निर्धारित किया है। वित्तीय वर्ष की समाप्ति को भी दो माह से अधिक हो गए हैं। लेकिन, अभी तक मात्र 972 लाभुकों का रजिस्ट्रेशन किया गया है। साढ़े छह सौ लाभुकों को आवास की स्वीकृति दे दी गई है। 501 लाभुकों को प्रथम किस्त, 77 लाभुकों को द्वितीय किस्त, मात्र चार लाभुकों को ही तृतीय किस्त की राशि उपलब्ध कराई गई है। वर्ष 2016-17 में सरकार के द्वारा 3433 लाभुकों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास देने का लक्ष्य रखा गया था। लक्ष्य के विरुद्ध 3230 लाभुकों को आवास योजना के तहत स्वीकृति दी गई। 3061 लाभुकों को प्रथम किस्त, 1364 लाभुकों को द्वितीय किस्त तथा मात्र 244 लाभुकों को अब तक तृतीय किस्त की राशि दी गई है। अब तक मात्र 180 आवास ही पूर्ण हो पाया है। डीडीसी ने इस निराशाजनक प्रदर्शन को काफी निंदनीय बताते हुए योजना में प्रगति लाने का निर्देश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jehanabad