ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार जहानाबादजल जमाव वाले इलाके को चिन्हित कर कराएं सफाई

जल जमाव वाले इलाके को चिन्हित कर कराएं सफाई

नप के ईओ, मुख्य पार्षद व नगर पार्षदों की हुई बैठक, नगर परिषद क्षेत्र के सभी 33 वार्डों में जल जमाव व गंदे पानी की निकास की समस्या को लेकर सोमवार को बैठक...

जल जमाव वाले इलाके को चिन्हित कर कराएं सफाई
हिन्दुस्तान टीम,जहानाबादMon, 24 Jun 2024 10:00 PM
ऐप पर पढ़ें

नप के ईओ, मुख्य पार्षद व नगर पार्षदों की हुई बैठक
विभागीय गाइडलाइन के मधेनजर कई बिंदुओं पर हुई चर्चा

जहानाबाद, निज प्रतिनिधि।

नगर परिषद क्षेत्र के सभी 33 वार्डों में जल जमाव व गंदे पानी की निकास की समस्या को लेकर सोमवार को बैठक हुई। नगर विकास विभाग के गाइडलाइन के अनुरूप परिषद के सभा कक्ष में बैठक का आयोजन किया गया था, जिसमें मानसून को देखते हुए जल जमाव और गंदे पानी की निकास की समस्या पर चर्चा हुई। निर्णय लिया गया कि जल जमाव वाले इलाके को चिन्हित कर पानी के निकास के लिए सफाई अभियान की मुकम्मल व्यवस्था की जाए। इसके लिए सफाई कर्मियों को निर्देश दिया जा रहा है।

बैठक की समाप्ति के बाद नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी किशोर कुणाल ने उक्त जानकारी दी। इस बैठक में मुख्य पार्षद रूपा देवी, उप मुख्य पार्षद पिंटू कुमार, वार्ड पार्षद संघ के अध्यक्ष संजय कुमार के अलावा कई महिला एवं पुरुष नगर पार्षद मौजूद थे। कार्यपालक पदाधिकारी ने बताया कि मानसून के मधेनजर विभागीय गाइडलाइन आया है। इसके तहत शहर में जहां जल जमाव की स्थिति रहती है, उस समस्या को दूर करने और जिन मोहल्ले में बारिश के कारण आवागमन में परेशानी होती है उसका समाधान करने के बिंदुओं पर चर्चा हुई।

इस शहर के कई मोहल्ले में आवागमन को दुरुस्त करने के नाम पर लाखों रुपए खर्च कर रास्ते की रोड़ा से भराई कराई गई है। बैठक में यह भी निर्णय हुआ कि अभी जिस मोहल्ले में आवागमन की समस्या है वहां रोड़ा भरकर वहां आवागमन की सुविधा बहाल की जाए ताकि बरसात में परेशानी नही हो। गंदे और बरसाती पानी के निकास के लिए नालियों की सफाई की गति तेज करने के निर्णय लिए गए। इसके लिए वार्ड जमादार और सफाई कर्मियों को यह निर्देश दिया जा रहा है कि जल जमाव होने वाले इलाके को प्रमुखता से चिन्हित करें। अगर वहां नालियां भरी हुई है तो उसकी सफाई कराई जाए। साथ ही बड़े नाला की भी उड़ाही में सघनता लाने के निर्णय लिए गए। यहां गंभीर स्थिति है कि इस शहर के गली मोहल्ले की नालियां और बरसाती पानी के निकास का एक ही साधन है। मुख्य रूप से शहर के बीच से गुजरे अलगना नाला के माध्यम से पानी का निकास होता है जो कई जगहों पर भरा हुआ है। कई जगह पर उसका अतिक्रमण किया गया है। वहां उसकी सफाई नहीं हुई है।

फोटो-24 जून जेहाना-17

कैप्शन- नगर परिषद कार्यालय में जल निकासी संबंधित बैठक करते अध्यक्ष रुपा देवी, उपाध्यक्ष एवं कार्यपालक पदाधिकारी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
Advertisement