DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लो व हाई वोल्टेज की समस्या से पांच वर्षों से लोग हैं परेशान

खुसरूपुर के नीमतल में बिजली के पोल पर उगीं लताएं, जो दे रहीं दुर्घटना को दावत।

जर्जर तार और अर्थिंग नहीं रहने से खुसरूपुर के पांच मोहल्लों में पांच सालों से बिजली की सप्लाई बाधित है। इससे तीन हजार आबादी प्रभावित है। इसमें फरैयाटोला, कन्या पाठशाला, मालीटोला, बड़ी दुर्गा स्थान, नीमतल और न्यू कॉलोनी शामिल है। इन मोहल्लों में अर्थिंग तार नहीं जोड़ने जाने के कारण लो और हाई वोल्टेज की समस्या है।

लोगों ने इस बारे में कई बार विभाग से गुहार लगाई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। वोल्टेज अनियंत्रित रहने से लोगों के इलेक्ट्रॉनिक सामान खराब हो रहे हैं। लोगों को कहना है लो और हाई वोल्टेज की वजह जर्जर तार और ट्रॉसफॉर्मर में अर्थिंग नहीं रहना है। यही नहीं कई मोहल्लों में  बिजली के तार पर लताएं उग आई हैं, जिससे बिजली सप्लाई प्रभावित हो रही है। कभी-कभी लताओं की वजह से शार्ट सर्किट होने से कई घंटों तक बिजली गुल रहती है।

गौरतलब राजीव गांधी विद्युतीकरण के तहत आठ साल पहले पांच मोहल्लों में बिजली की बेहतर सप्लाई के लिए 200 केवी का ट्रांसफॉर्मर लगाया था, लेकिन अर्थिंग बेहतर होने की वजह से बिजली सप्लाई बाधित रहती है। बिजली विभाग के कनीय अभियंता अमित कुमार भी यह मानते हैं कि अर्थिंग की कमी के कारण ही लो और हाई वोल्टेज की समस्या है। हालांकि, वे बिजली की खराब सप्लाई के लिए जर्जर तार को जिम्मेदार नहीं मानते,  जबकि सच्चाई यह है कि कई जगहों पर बिजली तार में गैप कम रहने से हवा बहने के दौरान तारें सट जाती हैं और शार्ट सर्किट से बिजली गुल जाता है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Five years people have trouble with low and high voltage problem