ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार गोपालगंजनिष्काम भाव से भागवत कथा सुनने मनोकामनाएं होती हैं पूरी: शैलेश

निष्काम भाव से भागवत कथा सुनने मनोकामनाएं होती हैं पूरी: शैलेश

यीपुर के पटखौली में चल रहा है श्रीमद् भागवत कथा बोलते अचार्य शैलेश तिवारी व सुनते श्रद्धालु पंचदेवरी/विजयीपुर, एक संवाददाता। श्रीमद्भागवत कथा निष्काम भाव से सुनने से मनुष्य की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो...

निष्काम भाव से भागवत कथा सुनने मनोकामनाएं होती हैं पूरी: शैलेश
हिन्दुस्तान टीम,गोपालगंजTue, 14 May 2024 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

पंचदेवरी/विजयीपुर, एक संवाददाता। श्रीमद्भागवत कथा निष्काम भाव से सुनने से मनुष्य की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं । निष्काम भाव से कोई भी पूजा पाठ, यज्ञ, भगवान की भक्ति करते हैं तो उसका संपूर्ण फल उस व्यक्ति को मिलता है । उक्त बातें विजयीपुर प्रखंड के पटखौली गांव स्थित संकट मोचन सह पाटलेश्वर महादेव मंदिर में चल रहे श्रीमद्भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ की दूसरे दिन काशी के व्यास पंडित शैलेश तिवारी ने कही । कथा व्यास ने सुखदेव जी का प्राक्ट्य, व्यास जी का जन्म, भागवत की रचना, महाराजा परीक्षित का जन्म, कुंती प्रसंग आदि पर प्रकाश डाला । उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन में एक इष्ट बनाना चाहिए । कहा कि भागवत अवरोध मिटाने वाली उत्तम अवसाद है। भागवत का आश्रय करने वाला कोई भी दुखी नहीं होता है। भगवान शिव ने शुकदेव बनकर सारे संसार को भागवत सुनाई है। भगवान का दूसरा नाम ही सत्य है। सत्यनिष्ठ प्रेम के पुजारी भक्त भगवान के अति प्रिय होते हैं। कलयुग में कथा का आश्रय ही सच्चा सुख प्रदान करता है। कथा श्रवण करने से दुख और पाप मिट जाते हैं। सभी प्रकार के सुख एवं शांति की प्राप्ति होती है। यज्ञ में मंडप की परिक्रमा के लिए मंगलवार को श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।