DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिंहासनी धाम के विकास के लिए जनप्रतिनिधियों ने उठाई आवाज

सिंहासनी धाम के विकास के लिए जनप्रतिनिधियों ने उठाई आवाज

प्रखंड के ऐतिहासिक धनेश्वरनाथ मंदिर सिंहासनी के विकास के लिए जिले के सांसद-विधायकों ने सूबे के पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार के समक्ष अपनी मांगें रखीं। शनिवार की देर शाम आयोजित कार्यक्रम में जन प्रतिनिधियों ने एक स्वर से मंदिर के विकास को लेकर अपनी आवाज उठाई। समारोह को संबोधित करते हुए सूबे के पर्यटन मंत्री श्री कुमार ने कहा कि बाबा धनेश्वरनाथ धाम के विकास के लिए राज्य सरकार के पास राशि की कोई कमी नहीं है। डीएम विकास व सुविधाओं के विस्तार के लिए योजना व उस पर खर्च होने वाली राशि के संबंध में रिपोर्ट दें। राशि की व्यवस्था पर्यटन विभाग करेगा। मौके पर सांसद जनक राम ने कहा कि इस ऐतिहासिक स्थल को बढ़ावा देने के लिए बिहार व केंद्र की सरकार कृत संकल्पित है। विधायक मिथिलेश तिवारी ने कहा कि जबतक सिंहासनी को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित नहीं किया जाएगा, वे चैन से नहीं बैठेंगे। विकास के लिए बैकुंठपुर के धरोहरों के लिए विधायक ने अपनी प्रतिबद्धता दुहराई। उन्होंने स्थानीय लोगों से ट्रस्ट बना कर मंदिर के लिए जमीन देने की अपील करते हुए कहा कि बिना जमीन के मंदिर का विकास व श्रद्धालुओं के लिए सुविधाओं का विस्तार नहीं हो सकता। कुचायकोट के विधायक अमरेंद्र पाण्डेय ने कहा कि भोलेनाथ का दरबार शीघ्र ही हर सुविधा से लैस होगा। जबकि हथुआ विधायक रामसेवक सिंह ने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार संकल्पित है। धनेश्वरनाथ मंदिर का बहुत जल्द कायाकल्प होगा। समारोह के दौरान डीडीसी दयाशंकर मिश्र, डीएसपी नीरज कुमार सिंह, एसडीएम शैलेश कुमार दास, भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद सिंह, जदयू जिलाध्यक्ष प्रमोद पटेल, ब्रह्मानंद राय, अनूप श्रीवास्तव, रवि प्रकाश मणि त्रिपाठी, बीडीओ निभा कुमारी, अंचल पदाधिकारी पंकज कुमार, मंदिर समिति के अध्यक्ष प्रभात कुमार पुरी, उपाध्यक्ष सत्येंद्र सिंह, प्रभुनाथ गिरि, राहुल सिंह, अवधेश सिंह, शुभनारायण सिंह, अवधेश सिन्दूरिया, जय प्रकाश दीक्षित, अल्हा रूदल सहनी, सिकंदर सहित कई लोग थे। स्वागतगान निधि पांडेय व मंच संचालन धनु पांडेय ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sihasni dham ke bikash ke liye uthai aawaj