DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर में स्ट्रीट लाइट लगे रहने के बाद भी पसरा रहता है अंधेरा

शहर में स्ट्रीट लाइट लगे रहने के बाद भी पसरा रहता है अंधेरा

शहर में बिजली के खंभों पर लगी एलईडी लाइट शोभा की वस्तु बनी हुई है। अधिकांश लाइट या तो बंद पड़ी है या फिर उससे कम रौशनी निकल रही है। कहीं स्वीच खराब है तो कहीं कनेक्शन का तार टूटा व लटका हुआ है। शहर के थाना चौक से आगे पुराना बिजली ऑफिस कार्यालय के पास,लकड़ी गोला,मोहनपुर रोड समेत कई स्थानों पर बिजली के खंभों पर लगी लाइट खराब है। नतीजतन लाइट लगे रहने के बाद भी शहर में शाम होते ही अंधेरा छा जाता है। शहर में बिना टाइमर वाली एलईडी लाइट लगाई गई है। इसलिए सभी दिन-रात जलती रहती है। अधिकांश लाइट शहर में दिन में इसलिए जलती रहती है क्योंकि उसका स्वीच ही खराब है। भरना पड़ता है 70 हजार का बिल सिटी लाइटिंग योजना के तहत इन लाइटों को जलाने के लिए बिजली कंपनी प्रतिमाह 20 किलोवाट बिजली सप्लाई फिक्स किया है । इसके लिए नगर पंचायत को 70 हजार रुपए का बिजली बिल भरना पड़ रहा है । ऐसे में खर्च के बाद भी लोगों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। कहते हैं कार्यपालक पदाधिकारीखराब लाइटों की मरम्मत को लेकर सप्लायर को पत्र लिखा गया है । जिन खंभों पर दिन में लाइट जल रही है,वहां उसे दिन में बंद करने के लिए व्यवस्था की जा रही है। रेणु कुमारी सिन्हा,कार्यपालक पदाधिकारीकहते हैं शहरवासीएक सड़क पर दस-दस लाइटें लगी हैं लेकिन रात में महज एक से दो लाइट भी नहीं जलती है । शहर में लगे हाई मास्ट लाइट के तमाम वेपर वर्षों से खराब पड़े हैं। अरूण कुमार सिंह,बरौली पथथाना चौक से लेकर बाजार में तक लगी 90 फीसदी लाइटें दिन में भी जल रही हैं । टाइमर वाली लाइट नहीं लगने से बिजली की बेवजह खपत हो रही है । परमेश्वर कुमार,वार्डवासी,वार्ड 15खराब लाइटों की मरम्मत नहीं कराई जाती । शहर की कई लाइटें कई माह से मामूली मरम्मत के अभाव में बेकार हैं । अंधेरे में आने -जाने से परेशानी होती है । मनोज कुमार,व्यवसायीमोहल्ले व दलित बस्तियों में लाइट नहीं लगाई गई है । नाली नहीं रहने से घरों का पानी सड़क पर बहता है । जल-जमाव के बीच अंधेरे में लोग गिर कर घायल होते हैं ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sahar me strit light lage rahane ke bad bhi pasra rahta hai andhera