make gopalganj free from dowry - आइए हाथ से हाथ मिलाएं, मिलजुल कर दहेज मुक्त गोपालगंज बनाएं DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आइए हाथ से हाथ मिलाएं, मिलजुल कर दहेज मुक्त गोपालगंज बनाएं

आइए हाथ से हाथ मिलाएं, मिलजुल कर दहेज मुक्त गोपालगंज बनाएं

आइए 21 को हाथ से हाथ मिलाएं। मिलजुल कर अपने जिला गोपालगंज सहित पूरे सूबे को बाल विवाह व दहेज मुक्त बनाएं। यह अपील शनिवार को जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम की गई। शहर से लेकर प्रखंडों में कैंडिल मार्च कर व मशाल जुलूस निकाल लोगों को 21 जनवरी को बाल विवाह व दहेज उन्मूलन के समर्थन में बनायी जाने वाली मानव शृंखला में बड़ी भागीदारी को जागरूक किया गया। शहर में कृष्णा टॉकिज, बंजारी चौक व अंबेदकर चौक से कैंडिल मार्च करते अधिकारियों व सामाजिक संगठनों व अन्य लोगों ने बाल विवाह व दहेज प्रथा जैसी सामाजिक कुरीतियों को खत्म करने के संकल्प को पूरा करने के लिए मानव शृंखला में सबसे बड़ी भागीदारी की अपील की तो वहीं, चैंबर्स ऑफ कॉमर्स, लायन्स क्लब, स्वर्णकार संघ, दवा व्यवासायी, नगर परिषद् के वार्ड पार्षद सहित विभिन्न संगठनों के लोगों ने घर-घर जाकर जागरूकता के संदेश दिए। कैंडिल मार्च का समापन मिंज स्टेडियम में मशाल जुलूस के साथ हुआ। मौके पर डीएम राहुल कुमार ने कहा सामाजिक कुरीतियों को खत्म कर आइए खुशहाल समाज का निर्माण करें। आइए, रविवार को बनायी जाने वाली मानव शृंखला में शामिल होकर बाल विवाह व दहेज मुक्त समाज के निर्माण के संकल्प को पूरा करें। मौके पर डीडीसी दयानंद मिश्र, वरीय उप समाहर्ता राजीव रंजन सिन्हा, ओएसडी डीपी शाही सहित कई अधिकारी व शिक्षाकर्मी व विभिन्न संगठनों के लोग, प्रतिनिधि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:make gopalganj free from dowry