11 people from both sides convicted in assault and murder - मारपीट और हत्या में दोनों पक्षों के 11 लोग दोषी करार DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मारपीट और हत्या में दोनों पक्षों के 11 लोग दोषी करार

default image

कटेया थाने के नियामत गुरियांव गांव के पास दो पक्षों के बीच हुई मारपीट व हत्या के 18 साल पुराने मामले में एडीजे 4 लवकुश कुमार की कोर्ट ने दोनों पक्षों के 11 लोगों को दोषी करार दिया है। इनकी सजा के बिंदु पर 30 अगस्त को सुनवाई होगी। दोषी करार दिए जाने के बाद सभी 11 लोगों को न्यायिक हिरासत में चनावे जेल भेज दिया गया। 30 जनवरी 2002 को दोनों पक्षों के बीच हुई इस घटना के मामले में दोनों पक्षों ने अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज कराई थी। पहली प्राथमिकी गांव के विक्रमा सिंह ने अपने ही गांव के हीरालाल सिंह, हरिवंश सिंह, योगेंद्र सिंह, अकलू सिंह, मंगल सिंह, बच्चा सिंह,भगेलू सिंह, बबलू, राधेश्याम सिंह व फुलवरिया थाने के बैरागी टोला के जवाहर सिंह के खिलाफ दर्ज कराई थी। इसमें उन्होंने फायरिंग कर उनके भाई बाबू राम सिंह की हत्या कर दिए जाने का आरोप लगाया था। इस मामले में कोर्ट ने भगेलू सिंह, हीरालाल सिंह, अकलू सिंह व मंगल सिंह सहित चार लोगों को दोषी करार दिया। दूसरे पक्ष से श्रवण भगत ने अपने ही गांव के विक्रमा भगत, शंकर भगत, विजय भगत, ज्ञानी भगत, मनोज भगत, शिवनाथ भगत, राजेंद्र भगत, वंशी भगत, जितेंद्र भगत व सुदर्शन शाह सहित 10 लोगों के खिलाफ दर्ज कराई थी। इसमें उन्होंने लाठी डंडे से उन्हें व साधु कैलाश दास को मारपीट कर घायल कर देने का आरोप लगाया था। इस मामले में ज्ञानी भगत, शंकर भगत, सुदर्शन शाह, शिवनाथ भगत, राजेंद्र भगत, वंशी सिंह व जितेंद्र सिंह को दोषी करार दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:11 people from both sides convicted in assault and murder