DA Image
25 सितम्बर, 2020|11:36|IST

अगली स्टोरी

भगवान अनंत की आराधना कर मांगी सुख-समृद्धि

default image

भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी की उदया तिथि को लेकर अधिकतर लोगों ने मंगलवार को भगवान अनंत की पूजा की। सुबह 9 बजे से पहले लोगों ने पूजा कर भगवान अनंत फल व सुख-समृद्धि की कामना की। चौदह गांठ वाली धागे से बनाए गए भगवान अनंत की पूजा करने के बाद इसे महिलाओं ने बाएं और पुरुषों ने दायें बाजू पर बांधा। इससे पहले मंगलवार को भी कुछ लोगों ने अनंत भगवान की पूजा की थी। लॉकडाउन के कारण इस बार विष्णुपद, मां मंगलागौरी, बगला स्थान, रामशिला सहित प्रमुख मंदिरों में ताले लटके रहे। श्रद्धालुओं ने गली-मुहल्लों के छोटे-छोटे मंदिरों में पूजा की। कोरोना वायरस को देखते हुए लोगों ने दो-चार लोगों का ही ग्रुप बनाकर ही पूजा की। पूजा में सोशल डिस्टेंसिंग का नजारा दिखा। आचार्य नवीनचंद्र मिश्र वैदिक ने बताया कि इस बार दो दिन सोमवार व मंगलवार को भी अनंत पूजा मनायी गयी। दोनों दिन श्रद्धालुओं ने पूजा की। उन्होंने बताया कि अनंत भगवान पूजा कर अनंत फल के साथ संपन्नता की कामना की। पूजा-पाठ के बाद घरों में मीठे व्यंजनों का मजा लिया। उन्होंने कहा कि अनंत पूजा के दिन मीठा खाने से जीवन में मिठास बढ़ती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Worshiped Lord Anant and sought happiness and prosperity