DA Image
2 दिसंबर, 2020|11:48|IST

अगली स्टोरी

पुरूषों की तुलना में कमजोर नहीं समझें महिला पुलिसकर्मी : एसएसपी

default image

पुरुषों की तुलना में महिला पुलिस अपने को कभी कमजोर नहीं समझें। वे शारीरिक बल के साथ विवेक में भी पुरुषों के समान अपने को समझ कर कर्त्तव्यों का इमानदारी पूर्वक निर्वहन करें। ये बातें रविवार को अंतराष्ट्रीय महिला दिवस पर पुलिस लाइन में सम्मान समारेाह सह परिचर्चा पर पुलिसकर्मियों को संबोधित करते हुए एसएसपी राजीव मिश्रा ने कहीं।

उन्होंने कहा कि जो आपको महिला समझ कार्य न करने की बात कहता है। उनसे हमेशा सतर्क रहें। जो भी काम आपका है, उसे ईमानदारी पूर्वक करें। उसके बाद आपको जीवन में कहीं किसी से समझौता नही करना पड़ेगा।

मां बन जीवन देने वाली किसी से कम नही हो सकती

वहीं सिटी एसपी राकेश कुमार ने कहा कि जो मां बन नया जीवन दे सकती है, वह किसी से कमजोर नहीं हो सकती है। पुरुष कितना भी कर ले, मां का स्थान नहीं ले सकता है। हमेशा एकजुट होकर काम करें। ड्यूटी के दौरान या किसी तरह की पारिवारिक समस्या से उलझन हो तो अपने वरीय अधिकारियों से जरूर साझा करें।

कलम व हथियार दोनों का पावर आपके पास है। जरूरत के हिसाब से उपयोग कर जीवन में आगे बढ़ें। सिटी डीएसपी राजकुमार साह, लाइन डीएसपी मनोज राम, सिविल लाइन थानाध्यक्ष उदय कुमार ने भी महिला पुलिसकर्मियों को संबोधित किया।

महिला थानाध्यक्ष व एससी/एसटी थानाध्यक्ष सहित 25 महिला पुलिसकर्मी सम्मानित

इस मौके पर महिला थानाध्यक्ष रवि रंजना व एससी थानाध्यक्ष मधु कुमारी जो अनुपस्थित थी, केातवाली के एसआई रेखा कुमारी, रामपुर के एसआई कुमारी शशिकला सिन्हा सहित 25 महिलाकर्मियों को वरीय पुलिस अधीक्षक ने सम्मानित किया। मौके पर वजीरगंज डीएसपी,सार्जेंट पवन कुमार, शारदा शंकर, डेल्हा थानाध्यक्ष अरुण कुमार, रामपुर थानाध्यक्ष प्रशांत कुमार, कोतवाली थानाध्यक्ष रामाकांत तिवारी, मुफसिल थानाध्यक्ष रूपेश कुमार, विष्णुपद थानाध्यक्ष उदय शंकर व अन्य पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

महिलाओं को अपनी सुरक्षा के लिए होना होगा एकजुट

फतेहपुर। प्रखंड के धन्छु गांव में महिला दिवस पर रविवार को महिलाओं ने जागरूकता रैली निकाली। रैली के माध्यम से महिलाओं को सशक्त बनाने और अधिकार पाने के लिए आगे आने के प्रति जागरूक किया गया। मौके पर वक्ताओं ने कहा कि महिलाएं आज भी अपने को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। मौके पर गीता देवी, सुनैना देवी, अकली देवी, सुनीता देवी, लालती देवी, मीना देवी, बतसिया देवी, अनीता देवी, रजंती देवी, ललिता कुमारी, रेखा देवी आदि मौजूद थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Women policemen should not be considered weaker than men SSP