DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › गया › एरू स्टील प्लांट के चालू होने का 12 वर्षों से इंतजार, सांसद ने इस्पात मंत्री को लिखा पत्र
गया

एरू स्टील प्लांट के चालू होने का 12 वर्षों से इंतजार, सांसद ने इस्पात मंत्री को लिखा पत्र

हिन्दुस्तान टीम,गयाPublished By: Newswrap
Sun, 01 Aug 2021 06:00 PM
एरू स्टील प्लांट के चालू होने का 12 वर्षों से इंतजार,  सांसद ने इस्पात मंत्री को लिखा पत्र

वजीरगंज। एक संवाददाता

वजीरगंज प्रखंड के एरू स्टील प्लांट का शिलान्यास आठ साल पहले किया गया था। लेकिन इसके बाद से आज तक इस पर कोई काम नहीं किया गया।

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमटेड की ओर से यहां स्टील प्रोसेसिंग यूनिट की स्थापना की जानी थी। 3 दिसम्बर 2008 को इसका शिलान्यास तत्कालीन इस्पात मंत्री राविलास पासवान ने किया था। स्थानीय विकास को गति देने के उद्देश्य से इस योजना का शिलान्यास किया गया था। मात्र तीन वर्षों में ही योजना को चालू होने की बात कही गयी थी। आवश्यक राशि सरकार द्वारा मुहैया करा देने का भरोसा दिलाया गया था। वजीरगंज सहीत पूरे मगध क्षेत्र के युवाओं में इस योजना को लेकर काफी उत्साह था।

शिलान्यास के बाद पांच वर्षों तक नहीं मिला एनओसी

सेल की प्रोसेसिंग यूनिट के लिये शिलान्यास के पहले और बाद में एरू के किसानों से एनएच 82 के निकट 27 एकड़ 28.02 डिसमिल जमीन सरकार ने अधिग्रहित कर ली। सभी को मुआवजा भी दे दिया गया। भूमि पूजन भी किया गया। लेकिन सरकारी उदासीनता के कारण पांच वर्षों तक अधिग्रहित भूमि का एनओसी नहीं दिया गया। बाद में कुछ स्थानीय संघर्ष मोर्चा एवं राजनीतिक संगठनों के आंदोलन फलस्वरूप राज्य सराकर द्वारा भूमि समपरिवर्तन का एनओसी दिया गया। तब तक काफी देर हो चुकी थी और योजना ठंडे बस्ते में डाल दी गयी।

जहां नहीं था सेल का कारखाना, उन राज्यों के लिए थी यह योजना

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमटेड (सेल) की यह योजना उन राज्यों के लिए थी, जहां पहले से सेल का कोई कारखाना नहीं था। अलग-अलग राज्यों में स्टील प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित करने का निर्णय लिया था। इसी के अंतर्गत् वजीरगंज के एरू में यूनिट स्थापित करने की स्वीकृति मिली थी। इसमें सेल के प्रमुख उत्पादों जैसे हॉट रोल्ड क्वायल, बीलेट्स, टीएमटी बार इत्यादि का प्रसंस्करण किया जाना था। इस यूनिट में प्रति वर्ष एक लाख टन टीएमटी छड़ों के उत्पादन करने की योजना थी। योजना के लिये सेल के सेंटर फॉर इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी को परामर्शदाता नियुक्त किया गया था। इसे डिजाइनिंग तथा इंजीनियरिंग के तहत सभी सेवाएं प्रदान करने का अधिकार दिया गया था।

इस्पात मंत्री को पत्र लिखे जाने पर लोगों में जगी आस

गया के सांसद विजय मांझी ने इस्पात मंत्री को पत्र लिखकर एरू स्टील प्रोसेसिंग प्लांट को चालू करने का आग्रह किया है। सांसद की इस पहल से लोगों में आस जगी है। एरू निवासी मधुसुदन सिंह, विरेन्द्र सिंह, अनुज सिंह, अक्षय सिंह, सुरज प्रकाश सिंह एवं विशुनपुर निवासी संघर्ष समिति सदस्य अमर सिंह सिरमौर बताते हैं कि भूमि अधिग्रहण से लेकर आज तक ग्रामीण इसके क्रियान्वयन की राह देख रहे हैं। यदि यह प्लांट चालू होता है तब स्थानीय लोगों को बड़े पैमाने पर रोजगार मिल सकता है। लोगों ने सांसद की इस पहल की सराहना की है।

फोटो :- वजीरगंज के एरू में सेल प्लांट के लिये अधिग्रहित भूमि

संबंधित खबरें