DA Image
3 दिसंबर, 2020|4:02|IST

अगली स्टोरी

कम वोटिंग वाले केंद्र के वोटरों को मतदान के लिए किया जाएगा प्रेरित

default image

विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर तैयारियां तेज हो गई है। अनुमंडल कार्यालय में सोमवार को टिकारी विधानसभा क्षेत्र संख्या 231 के सेक्टर मजिस्ट्रेटों के साथ बैठक की गई। एसडीएम सह आरओ करिश्मा ने सेक्टर मजिस्ट्रेटों को आवंटित मतदान केंद्रों के पहुंच पथ की रिपोर्ट एक सप्ताह के भीतर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

केंद्रों पर सुनिश्चित बुनियादी सुविधाएं यथा- पेयजल, बिजली, रैम्प, शौचालय, मोबाइल कनेक्टिविटि की जानकारी विहित प्रपत्रों में एआरओ को उपलब्ध कराने को कहा गया है। सभी मतदान केंद्रों का नजरी नक्शा, केंद्र से नजदीक रहने वाले पांच-पांच लोगों का मोबाइल नंबर उपलब्ध कराने को कहा गया। मतदान केंद्रों की दो सौ मीटर की परिधि में कोई राजनीतिक दल का कार्यालय न खुले, इस पर नजर रखने को कहा गया है। सब इलेक्शन ऑफिसर राजीव रंजन ने बताया कि पूर्व में वोटिंग का बहिष्कार करने वाले वोटरों को जागरुक किया जाएगा। प्रचार-प्रसार अभियान चलाकर उन्हें वोटिंग करने के लिए प्रेरित किया जाएगा। पिछले लोकसभा चुनाव में फीसदी से कम वोटिंग वाले मतदान केंद्र क्षेत्र में भी प्रचार-प्रसार किया जाएगा। ऐसे कुल 20 बूथ चिन्हित किये गए हैं। इनमें तीन बूथों पर एक भी वोटिंग नहीं हुई थी।

34 सेक्टर में बांटा गया है टिकारी

टिकारी विधानसभा को 34 सेक्टरों में बांटा गया है। एक से 14 तक कोंच और 15 से 34 तक टिकारी प्रखंड में सेक्टर बनाये गए हैं। टिकारी में मूल मतदान केंद्रों की संख्या 351 और सहायक मतदान केंद्रों की संख्या 119 है। टिकारी प्रखंड में तीन मतदान केंद्र मूल केंद्र के भवन से अलग हैं। जिनकी अधिकतम दूरी तीन सौ मीटर की है। बैठक में एएसडीएम संतन कुमार सिंह और सभी सेक्टरों के मजिस्ट्रेट मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Voters of low-voting center will be motivated to vote