ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार गयाआचार संहिता उलंघन पर तुरंत करें कार्रवाई: आरओ

आचार संहिता उलंघन पर तुरंत करें कार्रवाई: आरओ

नगर निकाय चुनाव के सफल संचालन के लिए गुरुवार को निर्वाची पदाधिकारी करिश्मा ने सेक्टर मजिस्ट्रेट और पुलिस अधिकारी के साथ बैठक की। बैठक में आरओ ने कहा...

आचार संहिता उलंघन पर तुरंत करें कार्रवाई: आरओ
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,गयाThu, 29 Sep 2022 09:20 PM
ऐप पर पढ़ें

नगर निकाय चुनाव के सफल संचालन के लिए गुरुवार को निर्वाची पदाधिकारी करिश्मा ने सेक्टर मजिस्ट्रेट और पुलिस अधिकारी के साथ बैठक की। बैठक में आरओ ने कहा कि भयमुक्त और शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट अपनी जिम्मेदारी बेहतर तरीके से निभाएं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।

सेक्टर मजिस्ट्रेट को आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन कराने का निर्देश दिया गया। आचार संहिता का उलंघन होने पर तुरंत कार्रवाई करने को कहा गया। कमजोर वर्ग के मतदान केंद्रों के मतदाताओं को किसी तरह से प्रभावित करने का प्रयास किसी के द्वारा न किया जाए, इस पर कड़ी नजर रखने का निर्देश दिया गया। टिकारी में वार्डों की संख्या 26 और मतदान केंद्रों की कुल संख्या 43 है। दो वार्डों पर एक सेक्टर का गठन किया गया है। 13 सेक्टर अधिकारी लगाये गए हैं। बैठक में एसडीपीओ गुलशन कुमार, एसएसओ टिकारी श्रीराम शर्मा मौजूद थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।

16 मतदान केंद्र अतिसंवेदनशील

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।

टिकारी शहर की 43 में से 16 मतदान केंद्रों को अतिसंवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है। संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 12 और सामान्य मतदान केंद्रों की संख्या 15 है। चलंत मतदान केंद्र रहने की वजह से पांच केंद्रों को अतिसंवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है। अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों पर प्रशासन की विशेष नजर रहेगी। माना जा रहा है कि यहां सुरक्षा के भी विशेष इंतजाम होंगे। मालूम हो कि टिकारी नगर परिषद चुनाव में मुख्य पार्षद के लिए 21 और उप मुख्य पार्षद के लिए 20 दावेदार मैदान में हैं। 26 वार्डों से 133 प्रत्याशी मैदान में डटे हैं। इन सभी के भाग्य का फैसला क्षेत्र के मतदाता 10 अक्टूबर को इवीएम के माध्यम से करेंगे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
epaper