DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारिश ने बिगाड़ी शहर की सूरत, कादो-कीचड़ व जलजमाव

दो दिनों की बारिश ने शहर की सूरत बिगाड़ दी है। नगर निगम की साफ- सफाई की व्यवस्था सामने आ गयी है। कहीं भीषण जलजमाव तो कहीं कादो-कीचड़ है। स्थिति यह है कि नगर निगम पानी से घिरा है। पोस्ट ऑफिस के सामने रमना कन्या विद्यालय जाने वाली सड़क, नगर निगम ऑफिस का इलाका मखलौटगंज, नाला रोड, रेलवे कॉलोनी, आशा सिंह मोड़, एपी कॉलोनी, गुरुद्वारा रोड, एईएन कार्यालय रोड, रेलवे अस्पताल रोड आदि इलाकों में जलजमाव है। जलजमाव के कारण कई रास्तों से गुजरना मुश्किल हो गया है। कादी-कीचड़ के कारण गुजरना मुश्किल हो गया है। शहर की इस भीषण समस्या की ओर न जिला प्रशासन और न ही नगर निगम का ध्यान है।

बारी रोड से दुर्गाबाड़ी का इलाका गंदे पानी का तालाब बना

शहर के बारी रोड और दुर्गाबाड़ी का इलाका पिछले करीब 13 सालों से बारिश होने पर तालाब बन जा रहा है। चूना गली -बारी रोड चौराहा से लेकर दुर्गाबाड़ी तक का इलाका गंदे पानी में डूबा है। भीषण जलजमाव के कारण बारी रोड-चूना, गली पहुंचना मुश्किल हो गया है। इसी तरह चूना गली से दुर्गाबाड़ी, निबंधन कार्यालय, कचहरी आवाजाही करीब-करीब बंद हो गयी है। कुछ दोपहिया वाहन चालक जैसे-तैसे गंदे पानी को पार कर गोदाम व चूना गली पहुंच रहे या हैं वहां से लौट रहे हैं।

सब्जी बाजार और किराना मंडी में कादो-कीचड़

बारिश से थोक किराना मंडी पुरानी गोदाम और सब्जी बाजार केदारनाथ मार्केट की स्थिति खराब हो गयी है। सड़कें कीचड़ में सन गईं हैं। सड़क पर कादो के पसर जाने के बाद इस इलाके में आवाजाही मुश्किल हो गयी है। को-ऑपरेटिव ऑफिस के पास कादो से दुर्गंध निकल रही है। इसी इलाके में कादो के बीच किसी तरह दोनों ओर फुटपाथी दुकानदार सब्जी बेच रहे हैं। नारकीय स्थिति से परेशानी के अलावा ब्रिकी प्रभावित हो गयी है। पुरानी गोदाम का इलाका होने के कारण दूर-दराज से आए कारोबारियों के बीच कादो-कीचड़ से गुजरकर खरीदारी करनी पड़ रही है। केपी रोड में ठेला चालकों, रिक्शा चालक और बाइक सवारों को भी आवाजाही में भारी फजीहत का सामना करना पड़ रहा है। इसी तरह एक नंबर रेल गुमटी के पास लगने वाली सब्जी मंडी की स्थिति भी खराब है। कादो के कारण आना-जाना दूभर हो गया है। दुकानदार और खरीदार दोनों परेशान हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rainfall of Surat, Kado-mud and Jaljamav of Bighadi city