DA Image
5 अगस्त, 2020|3:43|IST

अगली स्टोरी

संस्कृत महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य के निधन पर लोगों ने जताया शोक

default image

डोभी प्रखंड के अमारूत- सेवईचक गांव स्थित नित्यानंद संस्कृत महाविद्यालय के संस्थापक सह पूर्व प्राचार्य डॉ वसंत कुमार पाठक का निधन सेवईचक गांव स्थित अपने आवास पर बुधवार की शाम को हो गयी। 75 वर्षीय वसंत पाठक पिछले काफी दिनों से बीमार चल रहे थे। डोभी प्रखंड में संस्कृत महाविद्यालय की स्थापना कर वसंत पाठक ने संस्कृत भाषा को समाज में बेहतर स्थान दिलाने का कार्य किया था। उन्होंने प्रत्येक वर्ष गीता ज्ञान यज्ञ के आयोजन के साथ-साथ समाज के लिए और भी कई बेहतर कार्य किए थे। उनके निधन से शिक्षा जगत को अपूरणीय क्षति पहुंची है। उनके निधन पर विद्यालय परिवार, जनप्रतिनिधि, बुद्धिजिवी, ब्राह्मण समाज व शिक्षा जगत से जुड़े लोगों ने संवेदना प्रकट करते हुए गहरा शोक जताया है। शोक जताने वालों में प्रखंड प्रमुख सुनीता देवी, डोभी मुखिया जितेन्द्र यादव, रिटायर्ड शिक्षक प्रेमचंद तिवारी, किशोरी सिंह सहित अन्य कई लोग है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:People mourn the demise of the former principal of Sanskrit College