DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सत्यापन के बगैर छात्राओं को नहीं मिली छात्रवृति

स्थानीय प्रोजेक्ट कन्या इंटर स्कूल में अध्ययनरत नवीं, दसवीं की छात्राओं के प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति आवेदन का समय पर ऑनलाइन सत्यापन नहीं होने के कारण एक सौ से अधिक छात्राओं को छात्रवृत्ति की राशि से वंचित होना पड़ा है।शमा प्रवीन नामक एक छात्रा और उसकी कई सहपाठिनों ने इस आशय की शिकायत शेरघाटी के अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी से की है। छात्राओं का कहना है कि वर्ष 18-19 सेशन के दौरान नेशनल स्कॉलरशिप के ऐसे फार्म भरे गए थे। लड़कियों की शिकायत है कि फार्म भरने के समय स्कूल के शिक्षकों ने उनसे तीन से छह सौ रुपये तक नाजायज पैसे भी वसूले थे। लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने इस मामले में स्कूल के प्रधान से जवाब मांगा है। इधर विद्यालय की प्रधान शिक्षिका मीना मिश्रा ने बताया कि छात्रवृति के आवेदनों को ऑफलाइन सत्यापन किया गया था। ऑनलाइन वेरिफिकेशन की उन्हें कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने अपना जवाब भी लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को भेज दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:No scholarship to the girl students of project school