No confidence proposed against Tikari Prakhand Pramukh - टिकारी प्रखंड प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव DA Image
13 नबम्बर, 2019|8:31|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टिकारी प्रखंड प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव

टिकारी प्रखंड प्रमुख के खिलाफ पंचायत समिति सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव लाया है। 22 पंचायत समिति सदस्यों के हस्ताक्षर वाला आवेदन बीडीओ सह कार्यपालक पदाधिकारी को दिया गया है। पंचायत समिति सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव पर विचार-विमर्श और मत विभाजन के लिए बैठक बुलाने का अनुरोध किया है। अविश्वास प्रस्ताव के आवेदन में विकास कार्यों को बाधित, सदन में पारित प्रस्तावों की अवहेलना करने, पंचायती राज अधिनियम के खिलाफ कार्य करने तथा पद का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया है। प्रखंड प्रमुख सविता देवी के कार्य-कलापों व निष्क्रियता से असंतुष्ट होकर मत विभाजन की मांग की है। बिहार राज पंचायती अधिनियम के तहत बैठक बुलाने की मांग की है। आवेदन पर पंचायत समिति सदस्या निर्मला देवी, गोरेलाल यादव, रामाशीष यादव, रीना कुमारी, शारदा देवी, रंजय सिंह, अजय कुमार, सीताराम चौधरी, इंदू देवी, गुड़िया देवी, बली मांझी, सुनीता देवी, मीना देवी, अंजनी देवी, कविता देवी, मीरा देवी, सूर्यकली देवी, सुमन देवी समेत 22 सदस्यों के हस्ताक्षर हैं। सेंधमारी का प्रयास शुरू प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के बाद राजनीतिक पारा चढ़ गया है। सह व मात के खेल में सेंधमारी का प्रयास भी शुरू कर दिया गया है। कल तक प्रमुख के समर्थन में रहने वाले कई सदस्यों का हस्ताक्षर अविश्वास वाले आवेदन पर रहने से मामला थोड़ा गरम हो गया है। सदस्यों को मनाने और अपने पक्ष में करने का किया जा रहा है। अब अविश्वास प्रस्ताव पर बैठक की तिथि निर्धारित होने का इंतजार है। टिकारी में पंचायत समिति सदस्यों की कुल संख्या 31 है। इसमें कुर्सी गिराने के लिए कम से कम 17 सदस्यों का होना जरूरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:No confidence proposed against Tikari Prakhand Pramukh