DA Image
22 अक्तूबर, 2020|8:16|IST

अगली स्टोरी

41 दिनों बाद आशा कार्यकर्ताओं का आंदोलन समाप्त

default image

पांच सूत्री मांगों को लेकर 41 दिनों से चल रहा आशा कार्यकर्ताओं का आंदोलन बुधवार की देर शाम समाप्त हो गया। बीडीओ वेद प्रकाश के पहल पर आंदोलन समाप्ति की घोषणा की गई। अनशन कर रही आशा कार्यकर्ताओं को जूस पिलाकर अनशन तोड़वाया गया।

अनुमंडल अस्पताल परिसर में अनशन कर रही आशा कार्यकर्ताओं की स्वास्थ्य की जांच उपाधीक्षक सह चिकित्सक डॉ. सरोज कुमार सिंह ने किया। दो आशा कार्यकर्ता को सलाइन चढ़ाया जा रहा है। हेल्थ चेकअप के बाद अनशन पर डटी 17 में से 11 आशा कार्यकर्ताओं को अस्पताल में इलाज के बाद गुरुवार को छुट्टी दे दी गई।

उचित पहल का मिला आश्वाशन

आशा कार्यकर्ताओं ने डीएम के नाम बीडीओ को पांच सूत्री मांगों से समर्पित ज्ञापन सौंपा। इसमें आशा कार्यकर्ताओं के लंबित प्रोत्साहन राशि अस्पताल के रजिस्टर के आधार पर भुगतान कराने, 2014 से लंबित प्रोत्साहन राशि की जांच के लिए जिला लेखा पदाधिकारी की अध्यक्षता में प्रशासनिक कमेटी का गठन करने, जांच कमेटी के रिपोर्ट के आधार पर दोषी पाए जाने वाले के खिलाफ कार्रवाई, आंदोलन के दौरान की गई सभी कार्रवाई को रद्द करने आदि शामिल है। बीडीओ ने मांग पत्र को डीएम को भेजने की बात कही। अस्पताल प्रबंधन तथा आशा कार्यकर्ताओं के साथ एक संयुक्त बैठक करने की बात कही। मालूम हो कि मांगों को लेकर पिछले 20 अगस्त से आशा कार्यकर्ता आंदोलन कर रही थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Movement of ASHA workers ends after 41 days