DA Image
14 अगस्त, 2020|10:34|IST

अगली स्टोरी

करंट लगने से खेत में काम कर रहे मजदूर की मौत

default image

बांकेबाजार थाने के नौहर गांव के मोहनमिसिर टांड में खेत में काम कर रहे एक मजदूर की मौत शनिवार शाम करीब 4 बजे बिजली के करंट लगने से हो गई। मृतक नौहर गांव के दशरथ भुइयां का पुत्र वीरेंद्र भुइयां 35 साल था। ग्रामीणों ने बताया कि मृतक वीरेंद्र भुइयां नौहर गांव के निकट मोहनमिसिर टांड पर खेत में काम कर रहा था। इसी बीच खेत पटाने लगे मोटर का तार टूट कर गिर पड़ा। काम करते वक्त वीरेंद्र बिजली के तार की चपेट में आ गया। इस घटना में उसका छाती और सिर बुरी तरह झुलस गया। कुछ देर बाद पास के खेत में काम कर रहे किसानों ने उसे खेत में गिरा पड़ा देखा तो वहां से आनन-फानन में बांकेबाजार पीएचसी में टेंपो से लाकर भर्ती कराया। किंतु वीरेंद्र भुइयां की मौत अस्पताल आने से पूर्व भी हो गई थी। जिसे पीएचसी में डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पीएचसी में ड्यूटी में तैनात चिकित्सक रमेश शर्मा ने बताया कि वीरेंद्र भुइयां की मौत करंट से अस्पताल आने से पहले हो गई थी। इस संबंध में बांकेबाजार थाने के प्रभारी थानाध्यक्ष दशरथ प्रसाद ने बताया कि नौहर गांव के वीरेंद्र भुइयां की मौत करंट लगने से हुई। उसके परिजनों ने पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया। परिजन पोस्टमार्टम कराने के लिए तैयार नहीं हुए। इसके लिए उन लोगों ने लिखित आवेदन दिया है। इधर, लाश गांव पहुंचते ही सन्नाटा पसर गया। परिजन घर में दहाड़ चीत्कार मार कर रो रहे थे। सभी परिजनों का रो-रोकर हाल बेहाल था। ग्रामीणों ने बताया कि यदि खेत में तार टूटकर नहीं गिरता तो वीरेंद्र की जान बच सकती थी। वह दूसरे किसानों के खेत में काम कर परिवार चलाता था। उसकी मौत से पूरे परिवार पर पहाड़ टूट गई है। वह गरीब परिवार का सहारा था, उसकी मौत से सभी सदमे में है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Laborer working in the field dies due to electric shock