DA Image
21 जनवरी, 2020|11:32|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महाबोधि मंदिर में विश्वशांति को ले कग्यू मोनलम पूजा आज से

default image

महाबोधि मंदिर में विश्व शांति की कामना को लेकर काग्यू मोनलम पूजा रविवार से शुरू होगी। पूजा को लेकर सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है। 17वें करमापा थिनले थाई दोरजे सुबह साढ़े 7 सात बजे दीप जलाकर पूजा का विधिवत शुरुआत करेंगे। बोधगया के महाबोधि मंदिर में सात दिनों तक चलने वाली प्रार्थना और सूत्रपाठ के अवसर पर काग्यू वंश के श्रेष्ठ लामा पूजा में भाग लेंगे। पूजा को लेकर कई देशों के हजारों बौद्घ भिक्षुओं और श्रद्धालुओं की भीड़ बोधगया में जुटी। काग्यू मोनलम की परंपरा 7वें करमापा छोद्रक ग्यात्सो के जीवन काल से शुरू हुआ। पिछले कई वर्षों से यहां आध्यात्मिक गरिमा, मंत्रोच्चार और बौद्ध धर्म ग्रंथों के प्रति सम्मान के साथ पूजा की जा रही हैं। अध्यात्म गुरू और अनुयायी सभी मानवता व जीवों के कल्याण की आकांक्षा से प्रार्थना करेंगे। पूजा के लिए तोरमा व फूलों से मंदिर में बोधिवृक्ष के आसपास सजावट की गई है। तोरमा आराध्य देवी-देवताओं को समर्पित होता है। तोरमा के उपर कई देवी-देवताओं की तस्वीर बनी होती है। इसके समुख धर्मगुरु बैठेंगे और धर्मग्रंथ का पाठ करेंगे। आयोजन समिति ने बताया कि पूजा में प्रतिदिन तिब्बती बौद्ध धर्मग्रंथ का विशेष पाठ होगा। करमापा के अलग-बगल में अवतारी बौद्ध लामाओं की बैठने की व्यवस्था है। यह पूजा 23 दिसंबर तक चलेगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kagyu Monlam Pooja takes place from today in Mahabodhi Temple