DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  गया  ›  इमामगंज में लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त
गया

इमामगंज में लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त

हिन्दुस्तान टीम,गयाPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:10 PM
इमामगंज में लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त

इमामगंज। गुरुवार की सुबह से शाम तक मुसलाधार बारिश हुई। इससे गांव से लेकर शहर तक के लोगों जनजीवन अस्त-व्यस्त रहा। इमामगंज मुख्य बाजार की सड़क जलमग्न हो गया। लोगों को घर से निकलना मुश्किल हो गया। जून माह में समय से पहले बारिश होने से किसानों को भारी नुकसान हुआ है। इस सम्बंध पकरी गांव के किसान महेंद्र प्रसाद, कन्धाई प्रसाद, कहते हैं कि एक तरफ कोरोना महामारी ने हमलोगों को कमर तोड़कर रख दिया है। उससे उवरने के लिए खेतों में मूंग व सब्जी का खेती लगाए थे। एक सप्ताह से लगातार बारिश ने मूंग व सब्जी का फसल को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया। वे कहते हैं कि हमलोगों का जीविका मुख्य साधन खेती होता है। हमलोग सालों भर खाना खाने व अगली फसल पैदा करने के लिए धान व गेंहू का फसल करते हैं। बच्चों की पढ़ाई व घर मकान बनाने आदि अन्य काम करने के लिए मूंग व सब्जी की खेतीं करते हैं। लेकिन इस वर्ष मूंग व सब्जी की फसल को भगवान को अच्छा नहीं लगा। इससे हमलोगो का सारा काम ठप हो गया है। वहीं बच्चों का भविष्य भी चौपट हो गया है।

लगातार बारिश से आमस के किसानों में खुशी

आमस। समय पूर्व मानसून के दस्तक के साथ ही पिछले दो दिनों से रूक-रूक कर बारिश होने से प्रखंड के किसानों में खुशी है। लातार बारिश होने से किसान अच्छी बरसात का संकेत मान रहे हैं। किसान खेत तैयार कर धान के बीज बोने में जुट गये हैं। हालांकि मूंग के फसल को भारी नुकसान हुआ है। कमलनयन सिंह, मलधर दास, कमल रजक, बाबूराम यादव आदि किसानों ने कहा कि समय पर बीज डाले जाने से धान की रोपनी भी सही समय पर होगी। बता दें कि यहां सिंचाई व्यवस्था पूरी तरह बरसात पर ही निर्भर है। इस वजह किसानों को हर वर्ष हजारों रुपये का नुकसान होता है।

संबंधित खबरें