DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार ज़मीन दे तो इमामगंज में खुलेगा स्कूल

मंगलवार को स्वतंत्रता सेनानी स्वर्गीय जगलाल महतो की प्रतिमा का अनावरण उनके पैतृक गांव डुमरिया के करमौन में किया गया। प्रतिमा के अनावरण के बाद सभा को संबोधित करते हुए केन्दीय राज्यमंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि जगदेव बाबु और जगलाल महतो दोनों का सपना समाज का विकास करना था। लेकिन दो धारों में बंटे रहने के कारण सपना पूरा नहीं हो सका और समाज हजारों साल से सामाजिक पिछड़ेपन को झेलने को मजबूर है। उन्होंने कहा कि हमलोग अपने इतिहास को भूलकर अपनी पहचान समाप्त करते जा रहे हैं। समाज को टुकड़े में बांटकर राजनीति की जा रही है। इसलिए एक छते के नीचे आकर काम करें, तभी विकास संभव है। उन्होंने कहा कि समुन्द्र मंथन में अमृत और विष दोनों निकला था। मैं समाज के विकास के लिए विष पीने को तैयार हूं। स्थानीय लोगों द्वारा केन्द्रीय विद्यालय खोलने की मांग पर उन्होंने कहा कि बिहार सरकार केन्द्रीय विद्यालय के लिए जमीन उपलब्ध कराती है तो इमामगंज में केन्द्रीय विद्यालय खोलवाने का पूरा प्रयास करूंगा। इस मौके पर रालोसपा के सत्यानंद प्रसाद दांगी, पूर्व विधायक सचिदानंद सन्हिा, स्वर्गीय जगलाल महतो की पत्नी चन्द्रवती देवी, आरजेडी के पूर्व जिलाध्यक्ष प्रो. राधेश्याम प्रसाद, प्रो. कौशलेन्द्र प्रसाद, अशोक कुमार, अविनाश महतो, विजय प्रसाद, पूर्व प्रमुख रामचन्द्र प्रसाद सिंह, आदि दर्जनों लोगों ने सभा को संबोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Imamganj upendar kushwaha