DA Image
2 दिसंबर, 2020|10:22|IST

अगली स्टोरी

जीटी रोड के चौड़ीकरण के लिए गोपालपुर में तोड़े जा रहे मकान

default image

जीटी रोड के चौड़ीकरण के लिए शेरघाटी के गोपालपुर कस्बे में सड़क के किनारे की अधिग्रहित की गई भूमि पर बने मकानों को हटाने का सिलसिला शुरु हो गया है। एनएचएआई की नोटिस पर घर में रहने वाले लोगों ने खुद ही अपने मकानों को तोड़ने का काम शुरु किया है। गोपालपुर गांव की एक गृहिणी सुषमा देवी ने बताया कि उन्होंने घर तोड़ने के पहले डोभी में किराए का मकान लेकर वहां अपने सामानों को शिफ्ट किया है। उसी मकान में रहने वाले गोतिया लोगों ने गोपालपुर गांव में ही किराए का मकान लिया है। उन्होंने बताया कि अधिगृहित मकान की जमीन का मुआवजा मिल गया है। गोपालपुर के ही एक ग्रामीण रामकुमार शर्मा कहते हैं कि सड़क किनारे की जमीन का अबतक मुआवजा नहीं मिला है। बता दें कि एनएचएआइ के सासाराम प्रोजेक्ट में औरंगाबाद से लेकर चौपारण तक जीटी रोड के चौड़ीकरण के लिए भूमि के अधिग्रहण का काम हाल के दिनों में तेज हुआ है। स्थानीय निवासी राधेश्याम सिंह कहते हैं कि पिछले कुछ दिनों के अंदर सड़क किनारे के दर्जनों मकान तोड़े जा चुके हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Houses being demolished in Gopalpur for widening of GT Road