DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संतुलित उर्वरक के प्रयोग से खेतों में आयेगी हरियाली

कृषि कल्याण अभियान कार्यक्रम के तहत सोमवार को कुसापी गांव में मृदा स्वास्थ्य जांच कार्ड वितरण शिविर लगाया गया। शिविर में गांव के 93 किसानों को मृदा स्वास्थ्य जांच कार्ड दिया गया। खेत की उर्वरा शक्ति बढ़ाने की जानकारी दी गई।कृषि समन्वयन अभिषेक हर्षवर्धन व पवंजय कुमार ने किसानों को बताया कि मिट्टी को स्वस्थ्य रखने के लिए उसकी जांच करके उर्वरक खेत में डालने की सलाह दी। खेतों में संतुलित उर्वरक का प्रयोग कर किसान अच्छी उपज प्राप्त कर सकता है। जिससे खेतों में हरियाली आयेगी व आय बढ़ेगी। मौके पर किसान उमेश यादव, वासुदेव मिस्त्री, कुंदन कुमार व राजाराम महतो ने खरीफ फसल से जुड़ी समस्याओं के बारे में पूछा। समन्वयक ने धान की रोपाई समेत सारी जानकारी दी। बीएओ सुनील दत्त शर्मा ने बताया कि स्कीम के तहत अलग-अलग गांवों के 696 किसानों के खेतों की मिट्टी का नमूना लिया गया था। अब किसानों को मृदा जांच का रिपोर्ट कार्ड उपलब्ध कराया जा रहा है। समय पर किसान भी अगर चाहे तो मिट्टी जांच केंद्र, चंदौती गया से मिट्टी की जांच करा सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Green fodder will come in the fields using balanced fertilizer