DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार गयागया जंक्शन: प्लेटफार्मो का समुचित रख रखाव नहीं, यात्री परेशान

गया जंक्शन: प्लेटफार्मो का समुचित रख रखाव नहीं, यात्री परेशान

हिन्दुस्तान टीम,गयाNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 05:50 PM
गया जंक्शन: प्लेटफार्मो का समुचित रख रखाव नहीं, यात्री परेशान

गया । हिन्दुस्तान संवाददाता

पूर्व मध्य रेलवे के काफी महत्वपूर्ण स्टेशनों में शामिल गया जंक्शन के प्लेटफार्मो का समुचित रख रखाव नहीं होने तथा जहां-तहां प्लेटफार्मो का फर्श टूटे रहने से यात्री परेशान है। फर्श टूटे रहने के कारण प्लेटफार्म पर गढ्ढे भी उभर आए हैं। गढ्ढे से होकर अचानक आने जाने से यात्री गिरकर चोटिल भी हो जा रहे हैं। बताया गया क एक नंबर प्लेटफार्म पर हावड़ा इंड में फुट अवर ब्रिज के रैंप के पास प्लेटफार्म का किनारा भाग के पास पिछले पखबारा टूटे फर्श की चपेट में आकर रेल ट्रैक पर गिरी एक महिला यात्री की ट्रेन से कटकर मौत की भी घटना हो गई। गया जंक्शन के एक नंबर प्लेटफार्म सहित छह-सात नंबर प्लेटफार्म का जहां-तहां फर्श के टूटे रहने से यात्री परेशान हो रहे हैं। प्लेटफार्मो के टूटे फर्श की चपेट में आने से यात्री आए दिन चोटिल होते रहते हैं। टूटे फर्श से होकर ट्रेन चढ़ने-उतरने के दौरान भी दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। इतना ही नहीं छह-सात नंबर प्लेटफार्म पर पानी नल के पास भी फर्श के टूटे रहने तथा गढ्ढानुमा स्वरूप धारण करने से भी उसके चपेट में आ रहे यात्री परेशान हैं। लिफ्ट स्थल पर भी तोड़े गए प्लेटफार्म फर्श को अभी तक दुरूस्त नहीं किया गया है।

यात्री शेड से पानी निकास पाइप स्थल पर भी जहा-तहां प्लेटफार्म का फर्श क्षतिग्रस्त है। टूटे फर्श के कारण जहां यात्रियों को परेशान होना पड़ रहा है वहीं प्लेटफार्मो की सौन्दर्यता भी प्रभावित हो रहा है। क्षेत्रीय सांसद विजय कुमार मांझी व ग्रेंडकॉर्ड पैसेंजर्स एसेसिएशन के अध्यक्ष डीके जैन ने गया जंक्शन की महत्ता व भीड़-भाड़ की स्थिति को देखते हुए प्लेटफार्मो पर क्षतिग्रस्त व टूटे फर्श को दुरूस्त कराने की मांग रेल महाप्रबंधक से की है। साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री व रेल मंत्री खुद स्टेशनों पर यात्रियों की सुविधा पर विशेष ध्यान दिलाये जाने की दिशा में लगातार सुद़ढ़ कार्य के प्रति संकल्पित हैं। इसलिए प्रशासनिक स्तर पर स्टेशनों की यात्री सुविधा पर विशेष चौकसी बनाए रखने की जरूरत है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें