DA Image
15 जुलाई, 2020|4:43|IST

अगली स्टोरी

वाटर प्लांट की छत नहीं बनने से दुर्घटना की आशंका

default image

प्रखण्ड कार्यालय के समीप लोगो को सुलभ ढंग से पानी देने के लिए बनाए गए प्युरिफाईड वाटर प्लांट की छत अब तक नहीं बन पाने के कारण उसमें जमा पानी प्रदूषित हो रहा है। इसके कारण किसी दिन बड़ा हादसा भी हो सकता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग की ओर से प्रखण्ड कार्यालय के समीप प्युरिफाईड वाटर प्लांट के निर्माण के लिए तीन बड़े-बड़े पानी स्टॉक टैंक बनाए गए हैं। टैंक में डीप बोरिंग से पानी भरा जाता है। यह लबालब पानी से हर समय भरा रहता है। टैंक के उपर किसी तरह की छत का निर्माण नहीं होने के कारण पानी में गंदगी का अंबार लगा है। इसी पानी की सप्लाई हो रही है। वहीं जमे पानी में खेल खेल के दौरान बच्चो के डुबने की आशंका भी बनी रहती है। इधर विभाग की ओर से का बंद कर दिया गया है। पानी की सप्लाई भी बंद है। टैंक स्थल के समीप प्रखण्ड आवास में रह रहे अंचल अधिकारी कैलाश महतो ने बताया कि जिस तरह पानी टैंक लबालब भरा है और उसकी घेराबंदी या छत का निर्माण नहीं हो सका है, यह बहुत बड़ी घटना का कारण बन सकता है। इस संबंध में बीडीओ पंकज कुमार ने बताया कि इस संबंध में लोकस्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के कार्यपालक अभियंता से जानकारी लेकर आवश्यक कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू करवाई जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Failure of accident due to non-installation of water plant roof