ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार गयाकृषि, बागवानी, पशु व अन्य उत्पादन वयवस्था में जैविक विविधता को अपनाने पर जोर

कृषि, बागवानी, पशु व अन्य उत्पादन वयवस्था में जैविक विविधता को अपनाने पर जोर

पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के मंत्री डॉ. प्रेम कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को प्रखंड एवं जिला स्तर पर जैव विविधता प्रबंधन समितियों की...

कृषि, बागवानी, पशु व अन्य उत्पादन वयवस्था में जैविक विविधता को अपनाने पर जोर
हिन्दुस्तान टीम,गयाTue, 25 Jun 2024 06:45 PM
ऐप पर पढ़ें

पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के मंत्री डॉ. प्रेम कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को प्रखंड एवं जिला स्तर पर जैव विविधता प्रबंधन समितियों की ऑनलाइन मीटिंग हुई। इस अवसर पर इन्होंने जैव विविधता, कृषि, बागवानी, पशु एवं अन्य उत्पादन वयवस्था में जैविक विविधता, प्राकृतिक वन क्षेत्रों में जैव विविधता पर जोर दिया गया। साथ ही जैव विविधता प्रबंधन समितियों की भूमिका, वानिकी, वन्यप्राणी, पौधरोपण एवं आद्रभूमि संरक्षण आदि विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई। बदलते मौसम के कारण आ रहे पर्यावरणीय बदलावों की वजह से मनुष्यों, वन्यजीवों एवं वनस्पतियों पर पड़ रहे प्रतिकूल प्रभाओं पर चिंता व्यक्त की गई। उनके द्वारा राज्य में हरित आवरण को बढाकर 17 फीसदी करने की दिशा में कार्य करने के लिए कहा गया।

जैव विविधता प्रबंधन समितियों की ऑनलाइन सम्मलेन कार्यक्रम गया वन प्रमंडल, जिला स्तर पर कलेक्ट्रेट एवं जहानाबाद के सभागार में, प्रखंड स्तर पर सभी प्रखंड मुख्यालय स्थित सभाकक्ष में एवं सभी नगर निकाय क्षेत्रों में नगर आयुक्त एवं संबंधित कार्यपालक पदाधिकारी, नगर निकाय द्वारा अपने अपने सभा कक्ष में उपलब्ध कराये गए लिंक पर विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित की गई। इस कार्यक्रम के माध्यम से स्थानीय जड़ी-बूटी के खेती,बागवानी, कृषि वानिकी को प्रोत्साहित किया गया। इससे किसानो की आय में सतत वृधि होगी। प्राकृतिक वनाच्छादन का संरक्षण करने, वृक्षारोपण का संरक्षण एवं संवर्धन करने के लिए लोगो को प्रोत्साहित किया गया जिससे हरित आवरण में वृद्धि हो तथा जैव विविधता पर पड़ रहे प्रतिकूल प्रभाओं में कमी आयेगी। साथ ही जैव-विविधता प्रबंधन समिति को ऐसे व्यापार से लाभांश में हिस्सा मिलेगा। सम्मलेन में जिला परिषद अध्यक्ष, वन संरक्षक, वन प्रमंडल पदाधिकारी, उप विकास आयुक्त जिला पंचायती राज पदाधिकारी,जिला परिषद् के सदस्यगण एवं अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।