DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एकरूपैवा मुठभेड़: पुलिस को किशमिश और चार्ली की तलाश

लुटुआ थानाक्षेत्र के एकरूपैवा जंगल में माओवादियों के साथ 18 मई को सुरक्षाकर्मियों की हुई मुठभेड़ के मामले में पुलिस को नक्सली कमांडर संदीप यादव के अलावा किशमिश और चार्ली सहित तीस नक्सलियों की तलाश है। इस मुठभेड़ में अनिल राय (भटबीघा-इमामगंज) नामक एक नक्सली की मौत हुई थी और पुलिस को एके-56 राइफल तथा भारी मात्रा में कारतूस मिला था। 17 मई की शाम घने एकरूपैवा जंगल में नक्सलियों के जुटने की सूचना पर कोबरा, सीआरपी और स्थानीय पुलिस की साझा टीम ने नक्सलियों की घेराबंदी की थी। दरअसल आम चर्चा के मुताबिक मारे गए नक्सली की बेटी स्वीटी कुमारी की मानवतावादी तरीके से हो रही शादी में तमाम बड़े नक्सली नेता नव विवाहित जोड़े को आशीर्वाद देने के लिए जुटे थे। इस शादी समारोह में आसपास के ग्रामीणों को भी बुलाया गया था। इस इलाके में नक्सली धार को कुंद करने में जुटे सुरक्षाकर्मियों को इस मुठभेड़ में एक नक्सली के मारे जाने के साथ बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने इस मामले में दर्ज करायी गई रिपोर्ट (6/19) में नक्सली नेता संदीप यादव के अलावा लालदीप गंझू, मनोहर उर्फ किशमिश, सीता भुइयां, शिवपूजन यादव, संजीत भुइयां, अजीत दा उर्फ चार्ली, अमर उर्फ रंजीत, सुनील यादव, अमरेश, राजकुमार सिंह उर्फ शुक्ला जी, संजय सिंह भोक्ता और रामजी सिंह भोक्ता आदि को नामजद अभियुक्त बनाया है, जबकि अभियुक्तों में पचास-साठ अज्ञात भी शामिल हैं। इमामगंज थाने के ट्रेनी सब इंस्पेक्टर सूर्यवीर कुमार गुप्ता की तहरीर पर दर्ज किए गए इस मुकदमे की तफ्तीश का जिम्मा इमामगंज के पुलिस उपाधीक्षक और ट्रेनी आइपीएस अफसर सुशील कुमार को सौंपा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ek rupaiwa encounter FIR lodged in lutua police station