DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  गया  ›  पेंडिंग क्लियर किए बिना स्नातकोत्तर में नामांकन की प्रक्रिया शुरू होने से छात्रों में नाराजगी
गया

पेंडिंग क्लियर किए बिना स्नातकोत्तर में नामांकन की प्रक्रिया शुरू होने से छात्रों में नाराजगी

हिन्दुस्तान टीम,गयाPublished By: Newswrap
Wed, 16 Jun 2021 05:00 PM
पेंडिंग क्लियर किए बिना स्नातकोत्तर में नामांकन की प्रक्रिया शुरू होने से छात्रों में नाराजगी

बोधगया। निज संवाददाता

मगध विश्वविद्यालय बोधगया में स्नातक खंड तीन के हजारों छात्रों का परीक्षा परिणाम पेंडिंग में डाल दिया गया है। पेंडिंग क्लियर किए बिना स्नातकोत्तर में नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन की तिथि जारी कर दिए जाने के बाद अब छात्रों के बीच विश्वविद्यालय की कार्यशैली को लेकर आक्रोश उभरने लगा है। विश्वविद्यालय प्रशासन की गलती और लापरवाही के कारण आम छात्रों को उसका शिकार होना पड़ रहा है। 

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नेता और विभाग संयोजक अमन कुमार मिश्रा ने कहा कि मगध विश्वविद्यालय स्नातक खंड तीन के छात्र-छात्राओं का लंबित परीक्षा परिणाम प्रकाशित की जाय। त्रुटिपूर्ण परीक्षा परिणाम को सुधार करने के बाद ही स्नातकोत्तर नामांकन की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो हजारों की संख्या में छात्र स्नातकोत्तर में नामांकन लेने से वंचित हो सकते हैं। जिसका पूरा जिम्मेवार मगध विश्वविद्यालय प्रशासन होगा। पिछले वर्ष भी हजारों छात्रों के साथ इस प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ा था एवं उन्हें नामांकन से वंचित होना पड़ा था। स्नातक खंड तीन के रिजल्ट सुधार किए जाने तक ऑनलाइन नामांकन के लिए आवेदन की प्रक्रिया जारी रखी जाए और तब तक मेधा सूची का प्रकाशन नहीं किया जाए। जब तक सभी छात्र छात्राओं का स्नातक खंड 3 के पेंडिंग और त्रुटिपूर्ण परीक्षा परिणाम सुधार कर उन्हें दे नहीं दिया जाएl अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो पूरा छात्र समुदाय में आक्रोश व्याप्त है। विद्यार्थी परिषद आम छात्रों के सहयोग के साथ आंदोलन करने को बाध्य होगी और मगध विश्वविद्यालय प्रशासन इसकी जिम्मेवार होगी।

संबंधित खबरें