Wednesday, January 19, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार गया20 लीटर शराब बेचने के लिए 56 किमी चला रहे साइकिल............

20 लीटर शराब बेचने के लिए 56 किमी चला रहे साइकिल............

हिन्दुस्तान टीम,गयाNewswrap
Sun, 28 Nov 2021 09:30 PM
20 लीटर शराब बेचने के लिए 56 किमी चला रहे साइकिल............

इसे जुनून कहें या कुछ और, मगर यह सोलह आने सच है कि 35 साल के फूलचंद मांझी को 20 लीटर शराब बेचने के लिए साइकिल से 56 किमी का सफर तय करना पड़ता है।

यह हकीकत रविवार को तब बेपर्द हुई जब शेरघाटी थाने के गश्ती दल ने शेरघाटी-चेरकी मार्ग पर चिताब गांव के समीप शराब की पॉलीथिन से लदी एक साइकिल को जब्त करने के साथ साइकिल सवार को गिरफ्तार किया। गिरफ्त में आए साइकिल सवार की पहचान परैया थाने के बगाही गांव के फूलचंद मांझी के रूप में हुई है। पुलिस का कहना है कि वह झारखंड के एक सीमावर्ती कस्बे से शराब की खेप लेकर अपने गांव बगाही जा रहा था। झारखंड के इस कस्बे से शराब लेकर वह महमदपुर-गोपालपुर के रास्ते हरना मोड़ होते हुए चेरकी रोड पर पहुंचा था। जानकार सूत्रों के मुताबिक बगाही से झारखंड के सीमावर्ती गांव की दूरी 28 किमी है। ऐसे में यह समझना मुश्किल नहीं है कि आने-जाने में 56 किमी की दूरी उसे साइकिल से तय करनी पड़ती है। शेरघाटी के थानेदार दिनेश कुमार के मुताबिक पकड़ में आया यह धंधेबाज वैसे तो पुलिस को बता रहा है कि पहली बार ही वह शराब लेकर जा रहा था। मगर उसकी बातों पर यकीन करना मुश्किल है। जानकार सूत्रों का कहना है कि दरअसल साइकिल से शराब की पॉलीथिन को बोरे में रखकर लाने-ले जाने में कई दफा किसी को शक नहीं होता है। यह ऐसे मार्ग पर भी चलती है, जहां बाइक या दूसरी सवारी गाड़ियां नहीं चलती हैं। तो जाहिर है पकड़े जाने का रिस्क कम हो जाता है।

फूलचंद मांझी तो एक उदाहरण है, ऐसे कई लोग हैं जो साइकिल से ही लम्बा सफर तय कर शराब की तस्करी में लगे हैं। शेरघाटी अनुमंडल में शराब तस्करी के मामले में पकड़े गए वाहनों के अधिग्रहण के पूर्व वादों की सुनवाई कर रहे शेरघाटी के एसडीएम अनिल कुमार रमण की मेज पर भी ऐसी कई फाइलें निबटारे के लिए पड़ी हैं, जिनमें पुलिस या उत्पाद अधिकारियों द्वारा शराब के साथ साइकिलें पकड़ी गई हैं। अनुमंडल दंडाधिकारी के कार्यालय के मुताबिक साइकिल के मालिकों को सुनवाई के लिए नोटिसें की जा रही हैं।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें