DA Image
9 अगस्त, 2020|3:04|IST

अगली स्टोरी

जरूरत के अनुसार रेल कर्मियों का होगा कोरोना जांच : डीआरएम

default image

डीडीयू रेल मंडल के डीआरएम पंकज सक्सेना ने कहा कि जरूरत के अनुसार रेलकर्मियों की कोरोना की जांच की जाएगी। संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए गया जंक्शन सभी रेल कर्मियों को हर हाल में फेस मास्क का उपयोग करने का निर्देश उन्होंने दिया। गुरुवार को डीडीयू डिविजन का पहला वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस हुआ। इसमें डीआरएम ने कहा कि रेल प्रशासन कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर सजग है। स्टेशन परिसर, कार्यालयों, रेल कॉलोनियों को सेनिटाइज किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि गया रेल अनुमंडल अस्पताल में जांच कैंप लगाया जा रहा है। जिला प्रशासन के सहयोग से कर्मियों के सैंपल की जांच की जा रही है। उन्होंने स्टेशनों पर सोशल डिस्टेंसिंग का हर हाल में पालन कराने का निर्देश आरपीएफ और कमर्सियल विभाग के कर्मियों को दिया। उन्होंने यह भी कहा कि पॉजिटिव केस आने के बाद भी लोग विचलित नहीं हों। उन्होंने गया जिला प्रशासन द्वारा दी जा रही सुविधा को काफी सराहा। रेलकर्मी हेड क्वार्टर को नहीं छोड़ें। कोई शादी समारोह जैसे भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों में जाने से बचें। कोरोना पॉजिटिव होने की स्थिति में 15 दिनों तक होम क्वारंटाइन में रहें। मीडियाकर्मियों से ऑनलाइन संवाद के दौरान मंडल रेल प्रबंधक ने लॉकडाउन के दौरान मंडल द्वारा किए गए विभिन्न महत्वपूर्ण कार्यों के साथ-साथ मंडल की अन्य उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी। साथ ही कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं उससे बचाव के लिए मंडल की तैयारियों के बारे में चर्चा की। मौके पर राकेश कुमार रौशन, वरीय मंडल अभियंता (समन्वय) एचसी यादव, वरीय मंडल वाणिज्य प्रबंधक रूपेश कुमार तथा वरीय मंडल यांत्रिक अभियंता (समाडि) श्रवण कुमार भी उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona check of railway personnel to be done according to need DRM