DA Image
16 जनवरी, 2021|5:20|IST

अगली स्टोरी

हड़ताली कर्मियों के प्रदर्शन से चार घंटे शहर ठप

पन्द्रह सूत्री मांगों को लेकर हड़ताल कर रही जिले की आंगनबाड़ी सेविका-सहायिकाओं तथा आशा कार्यकर्ताओं ने ट्रेड यूनियन और फेडरेशनों के साथ मंगलवार को प्रदर्शन करते हुए काशीनाथ मोड़, कलेक्ट्रेट मोड़, गांधी मैदान रोड-चर्च मोड़ पर सड़क जाम कर दिया। इसके कारण शहर में करीब चार घंटे तक जाम ही जाम की समस्या बनी रही। जाम में लोग अपने वाहनों के साथ घंटो फंसे रहे।

आन्दोलन के कारण शहर मुख्यालय के काशीनाथ मोड़, कलेक्ट्रेट, जीबी रोड, स्वराजपुरी रोड, रमणा रोड, नगमतिया रोड, आईएएम हॉल रोड, राजेंद्र आश्रम, कोइरीबाड़ी, बाटा मोड़ सहित कई स्थानों पर गाड़ियां जाम में फंसी रहीं। चार घंटे से ज्यादा समय तक शहर की मुख्य सड़कों पर जाम की समस्या बनी रही।

आन्दोलन के दौरान महासंघ भवन में आयोजित सभा को संबांधित करते हुए बिहार राज्य आंगनबाड़ी संयुक्त संघर्ष समिति के राज्य कार्यकारी अध्यक्ष मो. यूसुफ ने कहा कि जबतक मांगें पूरा नहीं होंगी तब तक आन्दोलन जारी रहेगा। सेविकाओं को 18 हजार और सहायिकाओं को 12 हजार रुपए प्रतिमाह मानदेय के साथ ही सेविका को तृतीय श्रेणी व सहायिका को चतुर्थवर्गीय कर्मी के रूप में स्थायी करने आदि की मांग की गयी। उन्होंने कहा कि ट्रेड यूनियन व फेडरेशन के न्यू पेंशन सिस्टम को समाप्त करने, पुराना पेंशन सिस्टम लागू करने, ठेका, संविदा, मानदेय और आउट सोर्सिंग आदि को समाप्त करने समेत 12 सूत्री मांगों को पूरा कराने तक आन्दोलन किया जाएगा। प्रदर्शन का नेतृत्व मंजू कुमारी, जयनंदन शर्मा व श्यामसुन्दर यादव ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर शोभा सिन्हा, संगीता कुमारी, प्रेमलता, रेखा कुमारी, अनिता गुप्ता, रेणु कुमारी सहित जिले के विभिन्न प्रखंडों से सेविका-सहायिकांए आदि शामिल थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:City faces four hour jam due to agitation Four hours in the city jam jam