DA Image
1 सितम्बर, 2020|5:43|IST

अगली स्टोरी

शेरघाटी में मोरहर पुल के गड्ढों को लेकर पुल निगम ने भेजी रिपोर्ट

default image

शेरघाटी में जीटी रोड के मोरहर पुल में फिर उभर आए गड्ढों को लेकर बिहार राज्य पुल निर्माण निगम की ओर से एनएचएआई को रिपोर्ट भेजी गई है। रिपोर्ट में पुल की विशेष मरम्मत की जरूरत पर जोर दिया गया है। बता दें कि रिपेयरिंग के तीन हफ्ते बाद ही शेरघाटी के मोरहर नदी पुल पर अलकतरे की परतें उखड़ने लगी हैं। पुल पर निकल आए बड़े गड्ढे में बाइक सवारों या छोटे चक्के की गाड़ियों के फंसने या दुर्घटनाग्रस्त होने से बचाने के लिए लोहे की मोटी चादर तथा कंक्रीट के स्टॉपर रखे गए हैं। सड़क के बीचोंबीच स्टॉपर रखे जाने के कारण चौड़े आकार की गाड़ियों के गुजरने में भी मुश्किल हो रही है। जीटी रोड के इस पुल की मरम्मत का कार्य बिहार राज्य पुल निगम की देखरेख में एक प्राइवेट कंस्ट्रक्शन कम्पनी ने तीन हफ्ते पहले ही पूरा किया था। स्थानीय वाहन चालकों का कहना है कि इस पुल के सभी ज्वाइंट के पास अलकतरे की ऊपरी परतों के उखड़ने के कारण गड्ढे हो गए हैं, जिसमें अक्सर छोटे चक्के की गाड़ियों को गुजरने में हिचकोले महसूस होते हैं। इधर पुल निगम के गया स्थित कनीय अभियंता अशोक कुमार ने बताया कि मोरहर के पुराने पुल में गैप स्लैब की समस्या है। पुल की मरम्मत में गैप स्लैब को दुरूस्त किए जाने का काम शामिल नहीं था। उन्होंने बताया कि सोमवार को ही पुल के भौतिक निरीक्षण के बाद एनएचएआई को वस्तुस्थिति से सम्बंधित रिपोर्ट दी गई है। तत्काल पुल के गड्ढे से वाहनों को बचाने के लिए लोहे की चादर और स्टॉपर रखे गए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bridge Corporation sent report regarding the pits of Morhar bridge in Sherghati