ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार गयाशेरघाटी में आधार कार्ड बनवाने के नाम पर वसूले जा रहे मनमाना पैसे

शेरघाटी में आधार कार्ड बनवाने के नाम पर वसूले जा रहे मनमाना पैसे

शेरघाटी में आधार कार्ड बनवाने के नाम पर वसूले जा रहे मनमाना पैसे ग्रामीणों के विरोध के बाद सोनदाहा से भागे आधार ऑपरेटर आधार केंद्र ऑपरेटरों पर नहीं...

शेरघाटी में आधार कार्ड बनवाने के नाम पर वसूले जा रहे मनमाना पैसे
default image
हिन्दुस्तान टीम,गयाThu, 13 Jun 2024 06:00 PM
ऐप पर पढ़ें

शेरघाटी में आधार कार्ड बनवाने या फिर इसमें किसी तरह के संशोधन या अपग्रेड करवाने में जरूरतमंदों से मनमाने रुपये वसूल किए जा रहे हैं। वसूली का यह सिलसिला शेरघाटी शहर से लेकर दूर-देहात चल रहा है। कौन सी कंपनी के ऑपरेटर कहां आधार कार्ड बना रहे हैं? जरूरतमंदों से किस काम के लिए कितना शुल्क वसूला जाना है? यह सब भी कहीं किसी साइनबोर्ड या पोस्टर के जरिए प्रदर्शित नहीं किया गया है।
शेरघाटी के गोलाबाजार रोड में एक आधार अपडेशन केंद्र पर खुद अपना और अपने दो बच्चों का आधार फिंगर मार्क अपडेट करवाने के लिए गुरुवार को चट्टी मोहल्ले से आइ महिला रिंकी देवी ने बताया कि उससे डेढ़-डेढ़ सौ रुपये करके वसूले गए। कोई रसीद भी नहीं दी गई। इसी तरह बुधवार को बांकेबाजार के सुदूरवर्ती सोनदाहा गांव में आधार कार्ड बनाने के लिए आए तीन युवकों ने जरूरतमंदों से छह सौ रुपये से लेकर हजार रुपये तक की वसूली कर ली। बाद में जब कुछ जागरूक लोगों ने हल्ला मचाना शुरू किया तो सामान समेट कर तीनों लोग भाग गए।

आधार कार्ड बनाने वाली गया की एक कंपनी डेस्टिनी आइटी लिमिटेड के प्रतिनिधि संजय उज्जवल ने बताया कि गया में कई कंपनियों के ऑपरेटर काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि कुछ चीजों के लिए शुल्क निर्धारित है, लेकिन वह सौ-पचास रुपये से अधिक नहीं है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।