DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार गयाचातुर्मास ब्रेक के बाद 19 से मचेगी बैंड-बाजा व बाराती की धूम

चातुर्मास ब्रेक के बाद 19 से मचेगी बैंड-बाजा व बाराती की धूम

हिन्दुस्तान टीम,गयाNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 06:30 PM
चातुर्मास ब्रेक के बाद 19 से मचेगी बैंड-बाजा व बाराती की धूम

चातुर्मास ब्रेक के बाद 19 से मचेगी बैंड-बाजा व बाराती की धूम

चार माह के बाद 19 नवम्बर से शुरू होंगे मांगलिक दिन

19 नवम्बर से 13 दिसम्बर के बीच हैं विवाह के लिए शुभ दिन

16 दिसम्बर से शुरू होगा खरमास तो फिर माह भर का लग जाएगा ब्रेक

मकर संक्रांति के दिन खत्म होगा खरमास और 22 जनवरी से शुरू होगी शादी

गया। निज प्रतिनिधि

चातुर्मास ब्रेक के बाद 19 नवम्बर से बैंड-बाजा व बाराती की धूम शुरू होगी। लंबे इंतजार यानी करीब चार माह बाद शुक्रवार से शादी-विवाह शुरू हो जाएंगे। शुभ दिन शुरू होते ही विष्णुपद मंदिर, बांकेधाम, बेलागंज काली मंदिर सहित अन्य धामों पर शादी-विवाह के गीत गूंजने लगेंगे। 19 नवम्बर से लेकर 13 दिसम्बर तक मांगलिक दिन हैं। इसके बाद खरमास शुरू हो जाएगा। नवम्बर में सात और दिसम्बर में मात्र छह दिन ही सात फेरे लिए जा सकेंगे। शादी-विवाह को लेकर गया की मंडी में खरीदारी शुरू है। कोरोना ब्रेक के बाद इस बार शादी-विवाह को लेकर बाजार में विशेष चहल-पहल रहेगी।

19 को तुला से वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे सूर्य

आचार्य नवीनचंद्र मिश्र वैदिक ने बताया कि प्रबोधनी एकादशी सोमवार से चातुर्मास खत्म होगा। लेकिन, तुला राशि के सूर्य रहने के कारण शुभ दिन शुरू नहीं हो सके। 19 नवम्बर को सूर्य तुला से वृश्चिक राशि में प्रवेश कर जाएंगे। इसी दिन शहनाई की धुन बजनी शुरू हो जाएगी। नवम्बर में 7 और दिसंबर में 6 दिन शुभ हैं। 20 नवम्बर को रोहिणी नक्षत्र से शुभ दिन शुरू होंगे। 13 दिसम्बर तक ही मांगलिक दिन हैं। इसके बाद खरमास शुरू होगा। मकर संक्रांति के दिन खरमास खत्म होने के बाद 22 जनवरी 2022 से शुभ दिन शुरू होंगे।

नवम्बर से फरवरी तक शादी विवाह के लिए 25 दिन

मकर संक्रांति के दिन खरमास खत्म होने के बाद 22 जनवरी 2022 से शुभ दिन शुरू होंगे। पंचागों के अनुसार 19 नवम्बर से 2022 की फरवरी तक शादी रचाने के लिए करीब 25 दिन शुभ हैन। पांच माह के बीच एक माह 16 दिसम्बर से 14 जनवरी तक खरमास है। नवम्बर में सात दिन व फरवरी में 9 दिन सात फेरे लिए जाएंगे। सबसे कम जनवरी में मात्र तीन दिन शुभ हैं। जनवरी में 22, 23 और 25 को शादी-विवाह होगा। 14 मार्च से 13 अप्रैल तक खरमास होगा। 14 अप्रैल को सतुआनी के साथ एक बार फिर बैंड-बाजा व बाराती की धूम शुरू होगी।

नवम्बर और दिसम्बर में शादी-विवाह के लिए शुभ दिन

नवम्बर में - 20,21,26,27,28, 29 और 30 नवम्बर

दिसम्बर- 1,2,5, 7, 12 और 13 दिसम्बर

जनवरी- 22 व 23 जनवरी

फरवरी- 4,5,6,9,10,16,18 और 19 फरवरी

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें