DA Image
1 दिसंबर, 2020|5:33|IST

अगली स्टोरी

बांकेबाजार में ओझा-गुनी का आरोप लगा अधेड़ की गला काट कर हत्या

default image

प्रखंड के लुटुआ थाने के शंकरपुर गांव में गुरुवार की देर रात गर्दन काटकर अधेड़ की हत्या कर दी गई। मृतक शंकरपुर गांव के नागेश्वर भुइयां (55) थे। ओझा-गुनी के चक्कर में नागेश्वर भुइयां की जान चली गयी। आरोपित पड़ोस के ही रमेश उर्फ भोला भुइयां और उसके परिवार वाले हैं। घटना के बाद से सभी आरोपी घर छोड़कर फरार हैं। नागेश्वर भुइयां की हत्या धारदार हथियार से गर्दन पर वार करके की गई। शुक्रवार की सुबह लुटुआ थानाध्यक्ष शंकरपुर पहुंचे और लाश को पोस्टमार्टम के लिए गया भेज दिया। घटना के संदर्भ में मृतक की रिश्तेदार एतबरिया देवी ने बताया कि नागेश्वर भुइयां की हत्या रात में पड़ोस के ही भोला भुइयां ने टांगी से गर्दन काटकर कर दी। आरोपित भोला भुइयां की पत्नी की मौत करीब एक माह पूर्व हो गई थी। तब से भोला भुइयां ओझा-गुनी का आरोप लगाकर नागेश्वर भुइयां से झगड़ा कर रहा था। इधर, लुटुआ थानाध्यक्ष रंजीत कुमार ने बताया कि गुरुवार देर रात नागेश्वर भुइयां अपने घर में सोए हुए थे। पड़ोस के भोला भुइयां घर में घुसकर उसकी जान ले ली है। घटना के बाद से वह फरार चल रहा है।मौत के प्रतिशोध में की गई हत्यामृतक की रिश्तेदार एतबरिया देवी ने बताया कि हत्यारोपित भोला भुइयां की पत्नी करीब एक माह पूर्व किसी बीमारी से मर गई थी। किंतु भोला भुइयां ओझा-गुनी का आरोप लगाकर नागेश्वर भुइयां से झगड़ा कर रहा था। कई बार मारपीट पर उतारू हो गया था। प्रतिशोध में भोला भुइयां और उसके रिश्तेदार विलास भुइयां, केदार भुइयां व सुभाष भुइयां ने गुरुवार की देर रात नागेश्वर भुइयां के घर में घुसकर मारपीट की। इस दौरान गले पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। इसी बीच नागेश्वर भुइयां जमीन पर गिर गया और दम तोड़ दिया। इधर, ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी भोला भुइयां अपनी पत्नी को अक्सर मारपीट करता था। इस कारण पत्नी बीमार रहती थी और उसकी मौत हो गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Accused of exorcism in Bankebazar killing of middle-aged by strangulation